एप्लीकेशन सर्वर क्या है (वेब सर्वर और एप्लीकेशन सर्वर में अंतर) हिंदी में

Application Server Kya Hai In Hindi: आज के इस लेख में हम आपको Application Server क्या है के बारे में बताएँगे. इस लेख में आपको जानने को मिलेगा कि एप्लीकेशन सर्वर काम कैसे करते हैं, एप्लीकेशन सर्वर की विशेषताएं क्या है, एप्लीकेशन सर्वर के फायदे व नुकसान क्या हैं तथा एप्लीकेशन सर्वर वेब सर्वर से किस प्रकार से अलग हैं.

हमें पूरी उम्मीद है कि इस लेख को पढने के बाद आपको एप्लीकेशन सर्वर से सम्बंधित सभी सवालों के जवाब मिल जायेंगे. तो चलिए आपका अधिक समय न लेते हुए शुरू करते हैं इस लेख को और जानते हैं एप्लीकेशन सर्वर किसे कहते हैं हिंदी में.

एप्लीकेशन सर्वर क्या है एवं वेब सर्वर और एप्लीकेशन सर्वर में अंतर हिंदी में - Application server in hindi

एप्लीकेशन सर्वर क्या है (Application Server in Hindi)

एप्लीकेशन सर्वर ऐसे कंप्यूटर सिस्टम या प्रोग्राम होते हैं जिन्हें एप्लीकेशन को इनस्टॉल, संचालित और होस्ट करने के लिए डिजाईन किया गया है. एप्लीकेशन सर्वर बहुत ही High Power के कंप्यूटर सिस्टम होते हैं. एप्लीकेशन सर्वर यूजर और वेब क्लाइंट को एप्लीकेशन संसाधन प्रदान करते हैं. एप्लीकेशन सर्वर HTTP प्रोटोकॉल के साथ – साथ IIP, RMI प्रोटोकॉल को भी सपोर्ट करता है.

एप्लीकेशन सर्वर के दो भाग होते हैं एक हार्डवेयर या मशीन जिसमें किसी भी एप्लीकेशन का सारा डाटा स्टोर रहता है और दूसरा हिस्सा सॉफ्टवेयर का जो कि यूजर या क्लाइंट की Request पर एप्लीकेशन प्रदान करता है.

एप्लीकेशन सर्वर की परिभाषा (Definition of Application Server in Hindi)

एप्लीकेशन सर्वर ऐसे कंप्यूटर होते हैं जिन्हें IT, सेवाओं, संगठनों और अंतिम उपयोगकर्ताओं के लिए एप्लीकेशन से सम्बंधित सेवाएँ (जैसे एप्लीकेशन इनस्टॉल, संचालित, होस्ट) प्रदान करवाने के लिए डिजाईन किया गया है.

एप्लीकेशन सर्वर कैसे काम करता हैं (Application Server Work in Hindi)

जब कोई क्लाइंट (जैसे ब्राउज़र) एप्लीकेशन के लिए Request करता है तो पहले यह Request Web सर्वर के पास जाती है. चूँकि वेब सर्वर केवल वेबपेज को सर्व करता है इसलिए एप्लीकेशन की Request को वह आगे एप्लीकेशन सर्वर के पास भेज देता है.

एप्लीकेशन सर्वर अपने डेटाबेस से जानकारी प्राप्त करता है और यदि वह जानकारी एप्लीकेशन सर्वर के डेटाबेस में रहती है तो एप्लीकेशन सर्वर जानकारी लेकर वापस वेब सर्वर को भेज देता है, और वेब सर्वर जानकारी को आगे क्लाइंट को भेज देता है.

इस प्रकार से हम कह सकते हैं कि एप्लिकेशन सर्वर वेब एप्लिकेशन अनुरोधों को संभालने के लिए वेब सर्वर की क्षमता का विस्तार करते हैं.

एप्लीकेशन सर्वर की विशेषताएं (Feature of Application Server in Hindi)

एप्लीकेशन सर्वर की कुछ प्रमुख विशेषताएं निम्नलिखित हैं –

  • एप्लीकेशन सर्वर HTTP और HTTPS के साथ IIP, RMI प्रोटोकॉल को भी सपोर्ट करता है.
  • एप्लीकेशन सर्वर को Servlet, JSP, JTA जैसी तकनीकों पर Develop किया गया है.
  • एप्लीकेशन सर्वर .war और .ear दोनों प्रकार की फाइलों को खोल सकता है या प्रसारित कर सकता है .
  • एप्लीकेशन सर्वर में संसाधनों का उपयोग अधिक होता है.

एप्लीकेशन सर्वर के उदाहरण (Example of Application Server in Hindi)

आज के समय में बड़ी मात्रा में एप्लीकेशन सर्वर का इस्तेमाल किया जाता है. कुछ प्रमुख एप्लीकेशन सर्वर निम्नलिखित हैं –

  • JBoss
  • Weblogic
  • Glassfish
  • Tcat Server
  • Apache Geronimo
  • JRun
  • Oracle OC4J
  • SAP Netweaver AS

वेब सर्वर और एप्लीकेशन सर्वर में अंतर

वेब सर्वर और एप्लीकेशन सर्वर के बीच अंतर को हमने नीचे सारणी के द्वारा आपको समझाया है.

वेब सर्वरएप्लीकेशन सर्वर
वेब सर्वर केवल HTTP और HTTPS प्रोटोकॉल को सपोर्ट करते हैं.एप्लीकेशन सर्वर HTTP और HTTPS के अलावा IIP, RMI प्रोटोकॉल को भी सपोर्ट करते हैं.
वेब सर्वर Static Web कंटेंट को स्टोर और प्रदान करते हैं.एप्लीकेशन सर्वर Business Logic को स्टोर और प्रदान करते हैं.
वेब सर्वर कम संसाधनों का उपयोग करते हैं.एप्लीकेशन सर्वर अधिक बिज़नस संसाधनों का उपयोग करते हैं.
वेब सर्वर केवल .war वाली फाइल को ही प्रसारित करता है.एप्लीकेशन सर्वर .war और .ear दोनों प्रकार की फाइलों को प्रसारित करता है.
वेब सर्वर का उपयोग मध्यम स्तर पर किया जाता है. एप्लीकेशन सर्वर का इस्तेमाल बड़े पैमाने पर किया जाता है.
वेब सर्वर jee module के सर्विस jsp तकनीको के आधार पर बनाया गया है.एप्लीकेशन सर्वर servile, jsp, ejb jta, java, or mail तकनीको के आधार पर बनाया गया है.
difference between web server and application server In Hindi

एप्लीकेशन सर्वर के फायदे (Advantage of Application Server in Hindi)

एप्लीकेशन सर्वर के कुछ प्रमुख फायदे निम्नलिखित हैं –

  • एप्लीकेशन सर्वर का इस्तेमाल करके बड़े साइज़ के एप्लीकेशन की परफॉरमेंस को बेहतर बनाता है, क्योंकि यह क्लाइंट-सर्वर मॉडल पर आधारित है. 
  • एप्लीकेशन सर्वर एप्लीकेशन को सुरक्षा प्रदान करते हैं.
  • एप्लीकेशन सर्वर लेन – देन की सुविधा प्रदान करते हैं.
  • एप्लीकेशन को एक ही स्थान पर इनस्टॉल करना बहुत आसान होता है.

एप्लीकेशन सर्वर के नुकसान (Disadvantage of Application Server in Hindi)

एप्लीकेशन सर्वर के कुछ नुक्सान निम्नलिखित हैं.

  • एप्लीकेशन सर्वर की कीमत बहुत अधिक होती है.
  • एप्लीकेशन सर्वर संसाधनों का अधिक उपयोग करते हैं.
  • एप्लीकेशन सर्वर को बनाए रखने के लिए अतिरिक्त कोडिंग की जरुरत होती है.

FAQ: Application Server in Hindi

एप्लीकेशन सर्वर क्या है?

एप्लीकेशन सर्वर ऐसे कंप्यूटर सिस्टम को कहा जाता है जो एप्लीकेशन को स्टोर, इनस्टॉल, ऑपरेट और होस्ट करने की सुविधा प्रदान करते हैं.

एप्लीकेशन सर्वर के उदाहरण क्या हैं?

आज के समय में अनेक प्रकार के एप्लीकेशन सर्वर हैं जैसे कि – JBoss, Weblogic, JRun, Glassfish आदि.

इन्हें भी पढ़े

निष्कर्ष: एप्लीकेशन सर्वर क्या है हिंदी में

हमें उम्मीद है कि इस लेख को पढने के बाद आप समझ गए होंगे कि Application Server क्या है इन हिंदी, यह काम कैसे करता है, एप्लीकेशन सर्वर की विशेषताएं क्या है तथा एप्लीकेशन सर्वर के फायदे नुकसान क्या हैं. अगर अभी भी आपके मन में एप्लीकेशन सर्वर से जुड़े कोई प्रशन हैं तो आप हमें कमेंट बॉक्स में बता सकते हैं. अगर आपको यह लेख पसंद आया हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी सोशल मीडिया पर जरुर शेयर करें.

5/5 - (1 vote)

Techshole इंडिया की Best हिंदी ब्लॉग में से एक बनने की दिशा में अग्रसर है. यहाँ इस ब्लॉग पर हम Blogging, Computer, Tech, इंटरनेट और पैसे कमाए से सम्बन्धित लेख साझा करते है.

Leave a Comment