सेंसेक्स क्या है शेयर बाजार में Sensex घटता बढ़ता कैसे है (Sensex In Hindi)

अगर आपको शेयर बाजार में रूचि है या फिर आप घर में न्यूज़ चैनल पर शेयर मार्केट से जुडी ख़बरें सुनते होंगे तो Sensex के बारे में आपने जरुर सुना होगा. न्यूज़ चैनल में आप अक्सर सुनते होंगे कि आज सेंसेक्स इतना उछला, आज सेंसेक्स में इतनी गिरावट आई, तब कहीं न कहीं आपके मन में ख्याल आता होगा कि आखिर ये Sensex Kya Hai In Hindi.  

आपके इसी सवाल के जवाब में हमने आज का यह लेख लिखा है, हमने इस लेख में आपको सेंसेक्स के बारे में पूरी जानकारी देने की कोशिश है. अगर आप शेयर मार्केट में निवेश करके पैसे कमाना चाहते हैं तो सेंसेक्स बारे में आपको जानकारी होना भी आवश्यक है.

सेंसेक्स क्या है और शेयर बाजार में Sensex घटता – बढ़ता कैसे है – BSE Sensex In Hindi

तो चलिए आपका ज्यादा समय न लेते हुए शुरू करते हैं इस लेख को और विस्तार से जानते हैं Sensex क्या होता है.  

सेंसेक्स क्या है (What is Sensex in Hindi)

Wikipedia के अनुसार सेंसेक्स (Sensex) भारत के सबसे पुराने स्टॉक एक्सचेंज Bombay Stock Exchange (BSE) का बेंचमार्क इंडेक्स या संवेदी सूचकांक है. BSE ने सेंसेक्स की शुरुवात 1986 में की थी. Sensex दो शब्दों sensitive और index से मिलकर बना है. Sensex में BSE में रजिस्टर सर्वश्रेष्ठ 30 कंपनियों को शामिल किया जाता है.

Sensex को BSE 30, BSE Sensex या Sensex 30 के नाम से भी जाना जाता है, Sensex में होने वाले उतार – चढ़ाव से ही BSE के Overall Performance को देखा जाता है. Sensex की गणना Free Float Market capitalization methodology के द्वारा की जाती है.

सेंसेक्स घटता – बढ़ता कैसे है

अगर Sensex में लिस्टेड 30 कंपनियों के शेयर के प्राइस मार्केट में बढ़ रहे हैं तो इसका मतलब होता है कि Sensex बढ़ रहा है. जब Sensex बढ़ता है तो BSE के निवेशकों को भी मुनाफा होता है.

तथा जब Sensex में लिस्टेड शीर्ष 30 कंपनियों के शेयर प्राइस मार्केट में घट रहे हैं तो इसका मतलब होता है कि Sensex घट रहा है. अगर Sensex घटता है तो BSE के निवेशकों को नुकसान होता है. Sensex में सूचीबद्ध शीर्ष 30 कंपनियों के मार्केट में शेयर प्राइस बढ़ने और घटने पर सेंसेक्स बढ़ता और घटता है.

सेंसेक्स कैसे बनता है (Sensex Kaise Banata Hai)

BSE में लगभग 5700 से भी अधिक कंपनियां लिस्टेड हैं, जिसमें से शीर्ष 30 कंपनियों के मार्केट में शेयर दामों के अनुसार सेंसेक्स बना होता है. जब Sensex में कंपनियों को लिस्ट किया जाता है तो इसमें उन कंपनियों को शामिल किया जाता है जिनके शेयर मार्केट में रोज बेचे और ख़रीदे जाते हैं.

Sensex में जो 30 कंपनियां चुनी जाती है वह 13 अलग – अलग सेक्टर से चुनी जाती है, और ये सभी कंपनियां अपने सेक्टर में सबसे बड़ी होती है. किसी भी कंपनी के free float market capitalization के आधार पर Sensex को जारी किया जाता है.

Market capitalization (बाजार पूंजीकरण) की गणना कंपनी के कुल शेयर को एक शेयर की कीमत से गुणा करके की जाती है, और Free Float market capitalization की गणना के लिए कुल मार्केट पूंजीकरण में से कंपनी के मालिक, प्रमोटर और सरकार की हिस्सेदारी वाले शेयरों के मार्केट पूंजीकरण को घटा दिया जाता है. 

इस प्रकार से जिन तीस कंपनियों का मार्केट पूंजीकरण सबसे अधिक होता है उसे सेंसेक्स में शामिल किया जाता है. Sensex को स्टॉक एक्सचेंज की इंडेक्स कमेटी चुनती है. इसमें कई विभागों के लोग शामिल होते हैं जैसे सरकार, बैंक, अर्थशास्त्री आदि.

सेंसेक्स की गणना कैसे की जाती है (How to Calculate Sensex in Hindi)

सबसे पहले सेंसेक्स में लिस्टेड 30 कंपनियों का मार्केट पूंजीकरण (Market capitalization) निकाला जाता है. मार्केट पूंजीकरण निकालने के लिए कंपनी के द्वारा जारी किये गए कुल शेयरों की संख्या को एक शेयर की कीमत से गुणा किया जाता है.

जैसे कि किसी कंपनी ने 100 शेयर जारी किये हैं और प्रत्येक शेयर की कीमत 10 रूपये है, तो कंपनी का मार्केट पूंजीकरण 1000 रूपये का है.

अब कंपनी के Free Float फैक्टर की गणना की जाती है. इसमें कंपनी द्वारा जारी किये गए उन शेयरों को हटा दिया जाता है जो सरकार और कंपनी के प्रमोटर के पास हैं. इसमें उन्हीं शेयर को शामिल किया जाता है जो मार्केट में ट्रेडिंग के लिए उपलब्ध हैं.

माना एक कंपनी XYZ के 100 शेयरों में से 30 प्रतिशत शेयर सरकार और प्रमोटर के पास है और 70 प्रतिशत शेयर ट्रेडिंग के लिए उपलब्ध हैं, इस प्रकार कंपनी का फ्री फ्लोट फैक्टर 70 प्रतिशत है.

अब सभी कंपनियों के फ्री फ्लोट फैक्टर को कंपनी के मार्केट पूंजीकरण से गुणा कर दिया जाता है., जिससे कंपनी के Free Float market capitalization की गणना होती है.

इस प्रकार सभी 30 कंपनियों के Free Float market capitalization को जोड़ दिया जाता है और उसे एक Base Value से Devide करके Base Index से गुणा कर दिया जाता है. इस प्रकार से सेंसेक्स की गणना की जाती है. 

इस पूरी कैलकुलेशन को हम एक Formula के रूप में निम्न प्रकार से लिख सकते हैं –

Sensex = (Total Free Float market capitalization / Base Value) * Base Index

सेंसेक्स में लिस्टेड 30 कंपनियां (Top Company List in Sensex hindi)

सेंसेक्स में पहली बार 1986 में 30 कंपनियों को लिस्ट किया गया था, ये सभी कंपनियां मार्केट कैपिटल के आधार पर सबसे बड़ी और ताकतवर थी. इन कंपनियों के शेयर की मांग मार्केट में हमेशा बनी रहती है. चलिए सेंसेक्स में लिस्टेड 30 कंपनियों पर भी एक नजर डाल लेते हैं.

  1. Infosys Limited
  2. Reliance Industries Ltd.
  3. Tata Consultancy Services Ltd.
  4. HCL Technologies ltd.
  5. Larsen & Toubro Ltd.
  6. Bajaj Auto Ltd.
  7. Bajaj Finance Ltd.
  8. Bajaj Finserv Ltd.
  9. Oil & Natural Gas Corporation Ltd.
  10. Tata Steel Ltd.
  11. Tech Mahindra Ltd.
  12. Mahindra & Mahindra Ltd.
  13. Asian Paints
  14. Axis Bank Ltd.
  15. State Bank Of India
  16. ICICI Bank Ltd.
  17. HDFC Bank Ltd.
  18. Indusind Bank Ltd.
  19. Kotak Mahindra Bank Ltd.
  20. Hindustan Unilever Ltd.
  21. Housing Development Finance Corporation Ltd.
  22. Sun Pharmaceutical Industries Ltd.
  23. Maruti Suzuki India Ltd.
  24. Bharti Airtel Ltd.
  25. Power Grid Corporation Of India Ltd.
  26. NTPC Ltd.
  27. ITC Ltd.
  28. Ultratech Cement Ltd.
  29. Nestle India Ltd.
  30. Titan Company Ltd.

इन्हें भी पढ़े

सेंसेक्स से सम्बंधित सामान्य प्रश्न

सेंसेक्स क्या है?

सेंसेक्स बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का बेंचमार्क इंडेक्स है जिसे हिंदी में संवेदी सूचकांक कहते हैं. Sensex को BSE Sensex या BSE 30 के नाम से भी जाना जाता है.

सेंसेक्स की स्थापना कब हुई?

सेंसेक्स की स्थापना 1986 में हुई थी.

सेंसेक्स में कितनी कंपनियां लिस्टेड हैं?

सेंसेक्स में 30 कंपनियां लिस्टेड रहती हैं.

सेंसेक्स को कैसे कैलकुलेट किया जाता है?

Sensex को Free Float Market capitalization के आधार पर कैलकुलेट किया जाता है.

सेंसेक्स घटता और बढता कैसे है?

सेंसेक्स में सूचीबद्ध 30 कंपनी के मार्केट में शेयर दाम घटने और बढ़ने के साथ सेंसेक्स भी घटता – बढ़ता है.

आपने सीखा:  बीएसई सेंसेक्स क्या है हिंदी में

इस लेख में माध्यम से हमने आपको Sensex Kya Hai In Hindi, सेंसेक्स कैसे बनता है, सेंसेक्स की गणना कैसे की जाती है और सेंसेक्स में सूचीबद्ध 30 कंपनी के बारे में पूरी जानकारी दी है. हमारी हमेशा से कोशिश रहती है कि आपको सरल से सरल शब्दों में सभी जानकारी प्रदान करवाई जाए जिससे कि आपके मन में किसी प्रकार के सवाल शेष न रहें.

इस लेख को पढने के बाद भी अगर आपके मन में सेंसेक्स से जुड़े सवाल हैं तो आप हमें कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं, और अगर आपको यह लेख पसंद आया तो हमारे इस लेख को सोशल मीडिया पर भी शेयर करें और लोगों तक सही इनफार्मेशन पहुंचाएं.

5/5 - (1 vote)

नमस्कार ! मेरा नाम रणजीत सिंह है और मुझे इन्टरनेट पर लोगो की मदद करने में रूचि है. साथ ही Techshole.com का Fownder हु. इस Best Hindi Blog पर Blogging और Earn Money Online इत्यादि इन्टरनेट से जुडी जानकारी हिंदी में शेयर करता हु! हमारे ब्लॉग पर आने के लिए धन्यवाद.

Leave a Comment