कंप्यूटर में कर्सर क्या है इसके प्रकार (Type of Computer Cursor in Hindi)

कंप्यूटर में कर्सर क्या है इन हिंदी – दोस्तों अगर आपने कभी कंप्यूटर का इस्तेमाल किया है तो माउस से कंप्यूटर को नियंत्रित करते समय कंप्यूटर स्क्रीन में एक पॉइंटर को जरुर देखा होगा जो माउस के Movement के अनुसार ही कंप्यूटर स्क्रीन में इधर – उधर जाता है. उसका नाम कर्सर होता है.

ये तो आप सभी जानते होंगे, पर क्या आप जानते हैं कि आखिर कंप्यूटर में कर्सर क्या है, कर्सर की परिभाषा, कर्सर के प्रकार, कंप्यूटर में कर्सर की, कर्सर के कार्य और कर्सर के फायदे क्याक्या हैं.

अगर आप ऊपर पूछे गए सभी सवालों का जवाब जानना चाहते हैं तो इस लेख को पूरा अंत तक पढ़िए, इस लेख के माध्यम से हमने आपको कंप्यूटर कर्सर के बारे में पूरी जानकारी आसान शब्दों में दी है जिससे आप कंप्यूटर कर्सर के बारे में अच्छे से समझ सको.

कंप्यूटर में कर्सर क्या है (What is Computer Cursor in Hindi)

कंप्यूटर स्क्रीन में जो तीर के जैसा दिखने वाला निशान होता है जिससे कंप्यूटर स्क्रीन में माउस Movement की सहायता से चीजों को सेलेक्ट करते हैं, ओपन करते हैं या बंद करते हैं उसे ही कर्सर कहा जाता है. कंप्यूटर में कर्सर की मदद से कंप्यूटर स्क्रीन (मॉनिटर) में किसी भी चीज को निर्देशित कर सकते हैं.

कर्सर की परिभाषा (Definition of Cursor in Hindi)

कंप्यूटर स्क्रीन पर कर्सर एक छोटी आक्रति होती है जो यह इंगित करती है की यूजर के द्वारा की गयी माउस की गतिविधि या टाइप की गयी कोई भी चीज कंप्यूटर स्क्रीन में कहाँ पर दिखेगी.

कर्सर का हिंदी में मतलब (Cursor Meaning in Hindi)

कर्सर का हिंदी में मतलब होता है – सूचक या प्रसंकेतक

कर्सर के प्रकार (Type of Cursor in Hindi)

अपनी आकर्तियों के आधार पर कंप्यूटर कर्सर अनेक प्रकार होते हैं जिनमें से कुछ हमने नीचे बताये हैं-

1 – Arrow Cursor  (तीर कर्सर)

एक साधारण एरो की तरह दिखने वाला यह कर्सर कंप्यूटर स्क्रीन में किसी कमांड को सेलेक्ट करने के लिए प्रयोग किया जाता है.

2 – Sizing Cursor (आकार कर्सर)

Sizing Cursor में दोनों ओर एरो के चिन्ह बने होते हैं. साईजिंग कर्सर का इस्तेमाल विंडो की स्क्रीन को एडजस्ट करने के लिए किया जाता है. 

3 – Sizer Cursor (आकार मापक कर्सर)

Sizer Cursor के चारों ओर एरो के चिन्ह होते हैं. साइज़र एरो का इस्तेमाल कंप्यूटर स्क्रीन पर ऑब्जेक्ट को Move करने के लिए किया जाता है.

4 – Wait Cursor / Busy Cursor (इंतजार/व्यस्त कर्सर)

आपने देखा होगा कभी कभी कर्सर के बगल में एक गोला घूमता है इसे ही बिजी कर्सर करते हैं. बिजी कर्सर यह इंगित करता है कि अभी आप प्रतीक्षा करें विंडो खुलने में समय लग रहा है.

5 – Text Cursor (टेक्स्ट कर्सर )

जब भी आप कंप्यूटर में कुछ टाइप करते हैं तो टाइपिंग स्क्रीन पर आपको पूर्ण विराम के आकार का एक कर्सर दिखाई देता होगा, इसे ही Text Cursor कहते हैं. Text Cursor का इस्तेमाल Text को Edit करने में किया जाता है.

कंप्यूटर में लिंक कर्सर एक पोइंटिंग फिंगर वाले हाथ के सामान दिखाई देता. यह कर्सर केवल तभी दिखाई देता है जब किसी लिंक को फॉलो करना होता है.

जब आप कंप्यूटर में इन्टरनेट पर कोई वेब पेज देखते हैं तो अगर वेब पेज में कोई लिंक होगी तब आपको लिंक कर्सर दिखाई देगा. लिंक कर्सर पर क्लिक करते ही यह आपको किसी दुसरे वेबसाइट पर ले जायेगा.

7 – Help Cursor (मदद कर्सर)

यह कर्सर प्रश्नवाचक चिन्ह की तरह दिखाई देता है. यह कर्सर तब दिखाई देता है जब यूजर के साथ साझा करने के लिए कोई उपयोगी जानकारी है. साथ में ही यह कर्सर वेब पेजों में भी दिखाई देता है जब यूजर को किसी प्रकार की सहायता की जरुरत पड़ती है.

8 – Unavailable Cursor (अनुपलब्ध कर्सर)

अनुपलब्ध कर्सर एक वृत की तरह दिखाई देता है जिसके बीच में एक रेखा होती है. यह वृत अक्सर लाल रंग का होता है. अनुपलब्ध कर्सर यह बताता है कि आप जो भी कुछ क्लिक करने का प्रयास कर रहे हैं वह फ़िलहाल उपलब्ध नहीं है.

कर्सर की क्या है (What is Cursor Keys in Hindi)

कंप्यूटर कीबोर्ड पर पाए जाने वाले वे बटन जिनकी मदद से कर्सर को कण्ट्रोल किया जाता है उन्हें कर्सर की कहते हैं. कीबोर्ड में प्रमुख कर्सर की निम्न हैं

  • 4 बटन जिन पर एरो के निशान बने होते हैं वे मुख्य कर्सर की कहलाते हैं.
  • Page up और Page Down वाले Keys को भी कर्सर की कहते हैं. इनकी मदद से किसी पेज को आगे – पीछे किया जा सकता है.
  • Home Key की मदद से कर्सर को पेज के शुरुवात में ले जाया जा सकता है और End Key की मदद से पेज के अंत में.

कर्सर के फायदे (Advantage of Cursor in Hindi)

कंप्यूटर में कर्सर के बहुत सारे फायदे होते हैं जैसे कि –

  • कर्सर के इस्तेमाल से हम क्रम वाइज किसी कंप्यूटर में किसी भी काम को कर सकते हैं और उस काम को Verify भी कर सकते हैं.
  • कर्सर की मदद से कम समय में बेहतर परिणाम प्राप्त किये जा सकते हैं.
  • कर्सर के उपयोग से कंप्यूटर स्क्रीन में किसी भी काम को आसानी से किया जा सकता है.
  • अलग – अलग प्रकार के कर्सर से कंप्यूटर में विशेष प्रकार के कामों को किया जा सकता है.

कर्सर के नुकसान (Disadvantage of Cursor in Hindi)

वैसे तो कर्सर के इतने अधिक नुकसान नहीं हैं पर फिर भी इसके कुछ नुकसान हैं जैसे कि –

  • बार – बार नयी पंक्ति को जोड़ने पर काम करने की स्पीड में कमी आ सकती है.
  • कई बार पॉइंटर डिवाइस के सही न होने के कारण कर्सर अपना काम अच्छे से नहीं कर पाते हैं.

FAQ For Cursor in Hindi

कंप्यूटर में कर्सर क्या होता है?

कंप्यूटर में कर्सर यह निर्धारित करता है कि यूजर के द्वारा द्वारा की गयी गतिविधि स्क्रीन में कहाँ पर दिखेगी.

कंप्यूटर में पॉइंटर डिवाइस कौन से हैं?

कंप्यूटर में प्रमुख पॉइंटर डिवाइस माउस, ट्रैकबॉल और जॉयस्टिक हैं.

कर्सर का हिंदी में मतलब क्या है?

कर्सर का हिंदी में मतलब सूचक या प्रसंकेतक है.

कर्सर का क्या काम होता है?

कर्सर की मदद से कंप्यूटर स्क्रीन में चीजों को सेलेक्ट कर सकते हैं.

निष्कर्ष: कंप्यूटर में कर्सर क्या है हिंदी में 

इस लेख में हमने आपको कंप्यूटर में कर्सर क्या है के बारे में पूरी जानकारी देने की कोशिस की है जिससे कि आपको कर्सर के बारे में उपयोगी जानकारी मिल सके.

तो इस लेख में इतना ही उम्मीद करते हैं आपको हमारे द्वारा लिखा गया यह लेख जरुर पसंद आया होगा इसे अपने दोस्तों के साथ भी जरुर शेयर करें.

Ranjeet Singh
Ranjeet Singh

नमस्कार ! मेरा नाम रणजीत सिंह है और मुझे इन्टरनेट पर लोगो की मदद करने में रूचि है. साथ ही Techshole.com का Fownder हु. इस Best Hindi Blog पर Blogging और Earn Money Online इत्यादि इन्टरनेट से जुडी जानकारी हिंदी में शेयर करता हु! हमारे ब्लॉग पर आने के लिए धन्यवाद.

Leave a Comment