डाटा क्या है इसके प्रकार सहित पूरी जानकारी (What is Data in Hindi)

डाटा क्या है हिंदी: डेटा शब्द हम अपने दैनिक जीवन में सुनते हैं. आज के समय में यह शब्द Common हो गया है इसका इस्तेमाल कंप्यूटर और एंड्राइड मोबाइल फ़ोन बहुत अधिक होता है. हालाँकि लोग डेटा शब्द का इस्तेमाल तो करते हैं लेकिन उन्हें तब भी सही से पता नहीं होता है कि Data होता क्या है.

Data शब्द का इस्तेमाल हम इतनी बार करते हैं तो हमें डेटा के बारे में पता भी होना चाहिए. अगर आप भी जानना चाहते है कि डेटा क्या होता है तो इस लेख को पूरा अंत तक जरुर पढ़ें.

इस लेख के माध्यम से आपको जानने को मिलेगा कि Data क्या है, डेटा कितने प्रकार का होता है, डेटा स्टोर कैसे किया जाता है, डेटा को कैसे मापते हैं और डेटाबेस क्या होता है. इस प्रकार की बहुत महत्वपूर्ण जानकारी आपको इस लेख में मिलने वाली है जो कि हमेशा आपके काम आएगी.

डेटा क्या है (What is Data in Hindi)

हमारे पास किसी भी प्रकार का कोई रिकॉर्ड मौजूद होता है तो उसे हम डेटा शब्द से Represent करते हैं. डेटा (Data) शब्द तथ्य, अवधारणों, निर्देशों आदि को एक उपयुक्त रूप से प्रदर्शित करने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है, जिसकी जरुरत पढने पर हम संचार, व्याख्या और प्रोसेस कर सकते हैं. Data शब्द Datum का बहुवचन होता है जिसका अर्थ होता है दिया हुआ.

आपके मोबाइल में जो भी नंबर हैं वह भी डेटा है, अप अपने कंप्यूटर में जो भी फाइल बनाते हैं वह भी डेटा ही होता है. डेटा अलग – अलग रूप में हो सकता है जैसे कि टेक्स्ट, ऑडियो, विडियो, इमेज आदि.

Data जब अपने Raw Form में होता है तो वह किसी भी काम का नहीं होता है. जब Raw Data को Process करके Information तैयार करते हैं तब वह डेटा हमारे लिए उपयोगी होता है.

डाटा प्रोसेसिंग क्या है (what Is Data Processing In Hindi)

Raw Data को Process करके Information में Convert करने की प्रक्रिया ही Data Processing कहलाती है. कंप्यूटर में जब हम कोई डेटा Input करते है तो वह Raw Data होता है. और जो Output प्राप्त होता है उसे Information कहते हैं.

डेटा Process करने के मुख्य रूप से 3 चरण होते हैं.

#1 – Data को Input करना

इनपुट चरण में डेटा को हम कंप्यूटर में इनपुट करते हैं. जैसे कीबोर्ड, माउस आदि इनपुट डिवाइस से डेटा को कंप्यूटर में अलग – अलग प्रकार से इनपुट किया जाता है. जब डेटा को कंप्यूटर में इनपुट किया जाता है तो वह Binary Form (0,1) में कंप्यूटर में जाता है.

#2 – Data को Process करना

CPU की मदद से इनपुट डेटा को Process किया जाता है. कंप्यूटर यह समझने की कोशिस करता है कि इनपुट डेटा किस प्रकार का है.

#3 – डेटा का आउटपुट प्रदान करना

डेटा जब Process हो जाता है तो आउटपुट Information के रूप में प्राप्त होता है और यही Information यूजर के लिए उपयोगी होती है. आउटपुट डेटा को स्टोर भी किया जा सकता है जिससे कि जरुरत होने पर डेटा को इस्तेमाल कर सकें.

डेटा के प्रकार (Types of Data in Hindi)

अलग – अलग Form में होने के कारण डेटा भी अलग – अलग प्रकार के होते हैं. जिनके बारे में हमने आपको नीचे बताया है.

#1 – संख्यात्मक डेटा (Numerical Data)

ऐसा डेटा जो कि संख्या के रूप में होता है उसे संख्यात्मक डेटा कहते हैं. जैसे कि 0, 1, 2, 3 आदि रूप में.

#2 – अक्षरात्मक डेटा (Alphabetic  Data)

ऐसा डेटा जो कि अक्षर के रूप में होता है उसे अक्षरात्मक डेटा कहते हैं. जैसे कि a, b, c, d आदि.

#3 – चिन्हात्मक डेटा (Alpha Numeric Data)

ऐसा डेटा जो कि Special Character के रूप में होता है उसे चिन्हात्मक डेटा कहते हैं. जैसे @, #, $, & आदि.

#4 – विडियो डेटा (Video Data)

ऐसा डेटा जो कि विडियो के रूप में होता है उसे विडियो डेटा कहते हैं. जैसे कि Movie, Video Clip आदि.

#5 – ध्वनि डेटा (Sound Data)

ऐसा डेटा जो कि ध्वनि के रूप में होता है उसे ध्वनि डेटा कहते हैं. जैसे कि गाने, ऑडियो रिकॉर्डिंग आदि.

#6 – ग्राफिकल डेटा (Graphical Data)

ऐसा डेटा जो कि ग्राफिकल रूप में होता है उसे ग्राफिकल डेटा कहते हैं. जैसे कि इमेज, पिक्चर आदि.

डेटा को कैसे दर्शाया जाता है

डेटा को दर्शाने के लिए हम अक्षरों, संख्याओं, विशेष चिन्हों आदि का इस्तेमाल कर सकते हैं. डेटा Text, Image, Video या ऑडियो किसी भी Form में हो सकता है. डेटा को दर्शाने के मुख्य रूप से दो तरीके हैं –

  • Analogue Data
  • Digital Data

#1 – Analogue Data (एनालोग्यु डाटा)

एनालॉग डेटा वह डेटा होता है जिसे भौतिक तरीके से दर्शाया जाता है. एनालॉग डेटा को भौतिक मीडिया में स्टोर किया जाता है. जैसे VCR कैसेट, या अन्य Non – Digital Media, पुराने समय में लोग दीवारों में चित्र बनाते थे. वह भी एनालॉग डेटा है.

#2 – Digital Data (डिजिटल डाटा)

डिजिटल डेटा वह डाटा होता है जिसे कि डिजिटल रूप में दर्शाया जाता है. जैसे कि हम कंप्यूटर में कोई फाइल, इमेज, विडियो, आदि स्टोर करते हैं वह डिजिटल डेटा के अंतर्गत ही आता है.

डेटा को स्टोर कैसे करते हैं

जब हमारे पास डेटा मौजूद होता है तो उसे सुरक्षित रखने के लिए हमें स्टोर करना होता है. डेटा को स्टोर करने के लिए जरुरत पड़ती है स्टोरेज की. जब हम डेटा को स्टोर करके रखते हैं तो उसे आवश्यकतानुसार कभी भी उपयोग में ला सकते हैं. Physical World में डेटा को कागजों में लिखकर उसकी एक फाइल बनाकर स्टोर किया जाता है.

आज का युग Digital Marketing युग है, इसलिए अब डेटा को कागजों में स्टोर करने के बजाय कंप्यूटर के माध्यम से डेटाबेस में स्टोर किया जाता है. इस Digital दुनिया में हम डेटा को 2 प्रकार से स्टोर कर सकते हैं.

  • Temporary Storage
  • Permanent Storage

#1 – Temporary Storage (अस्थायी भंडारण)

Temporary Storage में डेटा को Temporary रूप से RAM में स्टोर किया जाता है. इसमें Data Temporary रूप से स्टोर होता है. जब तक कंप्यूटर को Power Supply मिलती है तो RAM में डेटा Temporary रूप से स्टोर होता है. Power Supply बंद होने पर RAM में स्टोर डेटा भी Delete हो जाता है. जब भी हम Current Time में कंप्यूटर में कोई कार्य करते हैं तो उसका डेटा RAM में स्टोर रहता है.

#2 – Permanent Storage (स्थायी भंडारण)

Permanent Storage में डेटा को हमेशा के लिए स्टोर किया जाता है. डेटा को Permanent स्टोर करने के लिए हार्ड डिस्क ड्राइव, SSD आदि के इस्तेमाल करते हैं. इसके अलावा कुछ External Device जैसे कि पैन ड्राइव, मेमोरी कार्ड आदि में भी डेटा को Permanent Store किया जाता है.

अगर आपके पास कोई महत्वपूर्ण डेटा है तो आप उसे Permanent Store कर सकते हैं ताकि जब आपको जरूरत पड़े तो आप उस डेटा को Access कर सकें.

डेटा को मापने की इकाई (Measurement  of Data in Hindi)

Digital Form में डेटा को निम्न इकाइयों में मापा जाता है. डेटा को मापने की सबसे छोटी इसकी बिट होती है.

1 Bit =1 Binary Digit
4 Bits =1 Nibble
8 Bit =1 Byte
1024 Byte =1 Kilobyte
1024 Kilobyte =1 Megabyte
1024 Megabyte=1 Gigabyte
1024 Gigabyte =1 Terabyte
1024 Terabyte =1 Petabyte
डेटा को मापने की इकाई (Measurement  of Data in Hindi)

डेटाबेस क्या है (What is Database in Hindi)

डेटाबेस डेटा का एक organized collection होता है. जब भी डेटा को स्टोर किया जाता है तो उसे किसी भी Random Order में स्टोर नहीं किया जाता है. डेटा को स्टोर करने के लिए एक Structure प्रदान किया जाता है. डेटाबेस की मदद से डेटा को organized करने के लिए एक Structure दिया जाता है.

Database Table एक बहुत ही सामान्य Data Structure है जिसमें Row और Column होते हैं. जहाँ प्रत्येक Row को एक Record कहा जाता है और प्रत्येक Column को एक Field कहते हैं. 

डाटा और डेटा में अंतर

बहुत सारे लोगों को यह Confusion रहती है कि डाटा और डेटा में क्या अंतर होता है. वास्तव में इन दोनों के कोई अंतर नहीं है. लोग कम जानकारी के कारण डेटा को डाटा कह देते हैं. लेकिन शुद्ध रूप में इसे डेटा ही कहा जाता है न कि डाटा.

डेटा से सम्बंधित सामान्य प्रश्न

संख्यात्मक डेटा क्या है?

ऐसा डेटा जो कि संख्या में रूप में उपलब्ध होता है उसे संख्यात्मक डेटा कहते हैं.

डेटा स्थाई रूप से कहाँ स्टोर रहता है?

Digital World में डेटा स्थाई रूप से या Permanent हार्ड डिस्क, SSD में स्टोर रहता है.

एनालॉग डेटा क्या होता है?

ऐसा डेटा जिसे हम Physical Way में Represent कर सकते हैं उसे एनालॉग डेटा कहा जाता है.

इन्हें भी पढ़े 

हमने सीखा: डेटा/डाटा क्या है हिंदी में  

इस लेख को पूरा अंत तक पढने के बाद आप लोग समझ गए होंगे कि Data Kya Hai In Hindi और Data कितने प्रकार का होता है. डेटा को समझना ज्यादा भी मुस्किल नहीं हैं क्योंकि इस Digital युग में डेटा एक सामान्य रूप से इस्तेमाल किया जाने वाला शब्द है.

हमने कोशिस की है कि इस लेख के माध्यम से आपको डेटा के बारे में पूरी बेसिक जानकारी दे सकें. उम्मीद करते हैं आपको हमारे द्वारा लिखा गया यह लेख What Is Data In Hindi पसंद आया होगा, इस लेख को सोशल मीडिया पर अपने दोस्तों के साथ शेयर करना न भूलें.

Ranjeet Singh
Ranjeet Singh

नमस्कार ! मेरा नाम रणजीत सिंह है और मुझे इन्टरनेट पर लोगो की मदद करने में रूचि है. साथ ही Techshole.com का Fownder हु. इस Best Hindi Blog पर Blogging और Earn Money Online इत्यादि इन्टरनेट से जुडी जानकारी हिंदी में शेयर करता हु! हमारे ब्लॉग पर आने के लिए धन्यवाद.

Leave a Comment