डोमेन अथॉरिटी और पेज अथॉरिटी क्या है – DA / PA की पूरी जानकारी हिंदी में

DA / PA In Hindi : आज हम आपको Domain Authority क्या होता है और Page Authority क्या है के बारे में पूरी जानकारी हिंदी में देने वाले हैं.

आज कल Internet दुनिया मे रोजाना एक नई website बन कर आती है और हर कोई चाहता है कि उसकी website या blog सबसे पॉपुलर Search Engine जैसे – Google पर Rank करें. इसलिए नए और पुराने Blogger अपनी website की Domain Authority और Page Authority को Build करने में लगे रहते है.

जो भी कोई Successful Blogger, Seo के बारे में जानकारी रखता है उसे यह जरूर पता होता है कि DA / PA उनकी वेबसाइट के लिये कितनी महत्वपूर्ण होती है, Blogger को Backlinks, Seo और Google Rank पर विशेष ध्यान रखने की जरूरत होती है.

तो चलिए इस post में हम विस्तार से जानते हैं Domain Authority (DA) और Page Authority (PA) क्या है, Blog का DA /PA कैसे cheak करें साथ ही अपनी Website का DA और PA Improve कैसे करें बताने वाले है.

Domain Authority, Page Authority Kya hai – DA PA क्या है पूरी जानकारी हिंदी में

डोमेन अथॉरिटी क्या है (Domain Authority In Hindi)

Domain Authority को short में DA कहते हैं, Domain Authority को एक SaaS कंपनी ने web matric जो Moz के द्वारा बनाया है.

Moz यह Decide करता है कि किसी भी website या blog को 1 से लेकर 100 की संख्या में कितनी grade देना है। 1 Grade बहुत ही ख़राब Rank और 100 बहुत अच्छी Rank के रूप में होता है.

Domain Authority किसी भी ब्लॉग और वेबसाइट के लिए seo में काफ़ी मददगार होता है.

यदि आपकी website की Domain Authority यानी DA अच्छा होगा तो Search Engine आपके Webpage को Rank करने में सहायक होगा. जितना आपकी वेबसाइट Rank होगी आपको blog पर Traffic भी Increase होगा.

Domain Authority नयी बनाई गई वेबसाइट की 1 से लेकर 10 के बीच रहती है और यह धीरे – धीरे बढ़ता जाता है , आप अपनी website पर Backlinks, seo और ऑर्गेनिक traffic को बढ़ाते जाएंगे वैसे – वैसे आपकी DA (Domain Authority) बढ़ जाएगी। तो चलिए अब हम Page Authority के बारे में जानते हैं।

पेज अथॉरिटी क्या है (Page Authority In Hindi)

Page Authority (PA) सबसे Popular Search Engine जो कि Google है का एक Official Algorithm है जो कि यह निर्णय लेता है कि किस Page को search में पहले दिखाना है.

यदि आपकी website के webpage की Page Authority अच्छी होगी तो Google उसे First Page पर दिखायेगा.

Domain Authority और Page Authority में क्या अंतर होता है

Domain Authority (DA) किसी भी Domain औऱ Sub-Domain की अनुमानित Moz रैंकिंग शक्ति को मापन करता है, इसके विपरीत Page Authority (PA) website के किसी एक web page की शक्ति को मापन करता है।

Blog का DA /PA कैसे cheak करें

Domain Authority को आज कल बहुत से वेबसाइट के एसईओ Tool और ऑनलाइन प्लेटफॉर्म में शामिल किया है। आप URL Explorer को MOZ Free SEO Tool अन्य किसी Keyword Explorer के SERP विश्लेषण का उपयोग करके किसी भी वेबसाइट के Domain की Domain Authority cheak कर सकते हो।

Website का DA और PA Improve कैसे करें

अगर आप भी अपनी ब्लॉग को गूगल में रैंक करना चाहते हैं तो आपको अपनी Blog और website का DA PA कैसे बढाए, इसके बारे में हमारे द्वारा दिए गए step को फॉलो करने होंगे.

  • आप अपने Blog के High Quality Backlinks बनाएं.
  • अपने Blog पर Daily Post Publish करें यानी अपनी website को Update रखे.
  • अपने ब्लॉग में Internal linking को बढ़ाये जिससे आपकी DA और PA एक दम से Increase होगी.
  • यदि आप Domain Authority (DA) को बढ़ाना चाहते हैं तो आपको On Page Seo जैसे – अपने सभी Article को कम से कम 1000 words के करीब लिखे.
  • Page Authority को बढ़ाने के लिए Image में सदैव Alt Text का use करें इसके अलावा आपके Article को User Friendly बनाएं जिससे आपकी website की Domain Authority increase होगी.
  • Domain Authority Fast increase करने के लिए आपको वेबसाइट की page speed बढ़ानी होगी.
  • यह ध्यान रखें कि website Page Authourity बढ़ेगी तो Domain अथॉरिटी भी जल्द ही Increase हो जाएगी.
Domain Authority कैसे बढ़ाये?

High Quality Backlinks बनाकर , ब्लॉग को अपडेट करके, On Page SEO, Off Page SEO, पेज loading स्पीड को सही करके, Guest Post करके, अपने Similar Blogs पर Comment करके आसानी से Domain ओथोरिटी को Increase कर सकते है.

Page Authority कैसे बढ़ाये?

Page Authority को बढ़ाने के लिए आपको अपने Blog Post में Internal Linking का अत्यधिक उपयोग सही तरीके से करना होगा. जिससे आपकी पेज अथॉरिटी एक दम से इनक्रीस होगी.

क्या Backlinks बनाने से डोमेन अथॉरिटी बढती है?

जी हाँ, Backlinks बनाने से डोमेन अथोरिटी बढ़ती है.

अंतिम शब्द – डोमेन अथॉरिटी और पेज अथॉरिटी क्या है हिंदी में

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि किसी भी website या Blog की DA PA एक समान नही रहता है यह कभी decrease तो कभी increase होता है.

यदि आपके Blog की Domain Authority increase होगी तो कोई भी search engine किसी भी webpage को First page पर rank करने में सहायक होगा।

इस पोस्ट में हमने आपको domain authority और page authority क्या है और domain authority और page Authority में क्या अंतर होता है, के बारे में पूरी जानकारी हिंदी में दी है.

यदि आपको हमारी यह पोस्ट पसन्द आयी हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर अवश्य करें.

यदि आपको domain authority (da) और page authority (pa) से रिलेटेड कोई प्रश्न हो तो हमे कमेंट बॉक्स में जरूर पूछ लेवें.

नमस्कार ! मेरा नाम रणजीत सिंह है और इस Best Hindi Blog का संस्थापक हूँ. मुझे ब्लॉग्गिंग, एसईओ और डिजिटल मार्केटिंग जैसे विषयों पर गहरी नॉलेज है! हमारे ब्लॉग पर आने के लिए धन्यवाद.

21 thoughts on “डोमेन अथॉरिटी और पेज अथॉरिटी क्या है – DA / PA की पूरी जानकारी हिंदी में”

  1. Domain authority आप ने इस आर्टिकल के बारे मे बहुत ही अच्छे समझाया है।

    Reply
  2. सर आपने बहुत ही अच्छा और यूजफुल आर्टिकल लिखा हुआ है, सर में भी एक हिन्दी ब्लॉगर हूं और में मेरे नॉलेज ग्रो हिन्दी ब्लॉग पर हिन्दी मे बुक कि समरी और biographies post करता हू, सर आप हमारे ब्लॉग पर जरूर विजिट किजिए।

    Reply
  3. Domain Authority आप ने इस आर्टिकल के बारे मे बहुत ही अच्छे समझाया है।

    Reply
  4. बहुत अच्छी जानकारी दी है आपने, मेरी इलेक्ट्रिक व्हीकल पर वेबसाइट है, कृपया इसमें बैकलिंक कैसे लगाएं इसकी जानकारी दे सकते हैं क्या

    धन्यवाद

    Reply
  5. Sir aapne bahut achhi jankari di hai iske liye thanks………. Sir please ek bar meri website dekh kr btaye kya mai sahi kr rhi Hu, Maine abhi abhi start Kiya hai

    Reply
    • आपके ब्लॉग का लिंक शेयर करें. तभी हम आपको बता पायेंगे.

      Reply
  6. Pingback: 10+ Blogging Tips in Hindi 2022 – Usama Speaks

Leave a Comment