गूगल क्लाउड प्लेटफॉर्म क्या है (Google Cloud Platform In Hindi)

Google Cloud Platform In Hindi: क्लाउड कंप्यूटिंग आज के समय में बहुत अधिक प्रचलित है मार्केट में अनेक सारी कंपनियां हैं जो क्लाउड स्टोरेज सेवाओं की पेशकश करती है, लेकिन क्लाउड कंप्यूटिंग में सबसे लोकप्रिय Google Cloud है जिसका इस्तेमाल दुनियाभर में सामान्य यूजर, वेब डेवलपर, क्लाउड मैनेजर आदि करते हैं.

पर क्या आप जानते हैं Google Cloud Kya Hai? गूगल क्लाउड काम कैसे करता है? गूगल क्लाउड कौन सी सर्विस प्रदान करता है? और गूगल क्लाउड के फायदे क्या हैं? यदि नहीं तो आप एकदम सही ब्लॉग पर आये हैं. आज के इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको गूगल क्लाउड की सम्पूर्ण जानकारी देने वाले हैं.

तो चलिए आपका अधिक समय ना लेते हुए शुरू करते हैं इस लेख को और जानते हैं Google Cloud प्लेटफार्म क्या है हिंदी में विस्तार से.

Google Cloud Platform Review in Hindi

सर्विस का नामGoogle Cloud Platform
सर्विस की केटेगरीCloud Computing
किसके द्वारा संचालित हैGoogle
कब लांच की गयी7 April 2008

गूगल क्लाउड क्या है? (Google Cloud in Hindi)

गूगल क्लाउड प्लेटफॉर्म क्या है, काम कैसे करता है (Google Cloud Platform In Hindi)

Google Cloud Platform जिसे कि Google Cloud के नाम से भी जाना जाता है इसे 7 अप्रैल 2008 को गूगल कंपनी ने लॉन्च किया था. Google cloud प्लेटफॉर्म गूगल द्वारा दी जाने वाली क्लाउड कंप्यूटिंग का एक समूह है. Google cloud प्लेटफॉर्म सेवाओ को इंटरनेट सर्विस के माध्यम से वेब डेवलपर, क्लाउड मैनेजर या IT प्रोफेसनल द्वारा एक्सेस किया जा सकता है.

Google cloud वेब पर किसी एप्लीकेशन को बनाने के लिए कंप्यूटिंग resources को उपलब्ध करता है. गूगल क्लाउड से आप गूगल जैसी संरचना मे वेबसाइट और एप्लीकेशन बना सकते है और इनको मैनेज भी कर सकते है.

आपने गूगल की सर्विस जी मेल, गूगल मैप, यूट्यूब, गूगल ड्राइव, गूगल फोटोज, गूगल डॉक्स आदि के बारे मे सुना ही होगा तथा आपने इनका उपयोग भी किया होगा यह सभी एप्लीकेशन Google cloud मे ही चलते है.

लेख को यहाँ तक पढने पर हमने जाना कि Google Cloud Kya Hai In Hindi, अब हम आपको गूगल क्लाउड के बारे में अन्य सभी महत्वपूर्ण जानकारी देंगें जो कि शायद ही आपको मालूम होगा.

गूगल क्लाउड की सर्विस (Google Cloud Service)

Google cloud प्लेटफॉर्म बहुत से area मे सर्विस प्रदान करता है जो नीचे दिये गए है

  • कंप्यूटर सर्विसेस
  • बिग डाटा सर्विसेस
  • मैनेजमेंट टूल्स
  • नेटवर्किंग
  • आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस
  • इंटरनेट ऑफ थिंग्स
  • स्टोरेज सर्विसेस

Google Cloud platform में प्रमुख क्लाउड सर्विस निम्नलिखित हैं –

#1 – Google App Engine (गूगल एप्प इंजन)

Google App Engine डेवलपर को बड़े पैमाने पर एप्लीकेशन को Develop करने तथा होस्ट करने के लिए पूरी तरह से मैनेज सर्वर रहित प्लेटफ़ॉर्म प्रदान करता है. आप app को बनाने के लिए कई लोकप्रिय प्रोग्रामिंग लैंग्वेज जैसे PHP, Python आदि को सेलेक्ट कर सकते हैं.

#2 – Google Computing Engine (गूगल कंप्यूटिंग इंजन)

Google Computing Engine एक customizable कंप्यूट सर्विस है जो यूजर को गूगल की बेसिक संरचना पर वर्चुअल मशीन बनाने और चलाने की सुविधा देता है. इस सर्विस की मदद से आप अपनी आवश्यकताओं के अनुसार एक वर्चुअल मशीन बना सकते हैं.

#3 – Google Cloud Storage (गूगल क्लाउड स्टोरेज)

Google Cloud Storage यूजर की फाइल को Google Cloud में स्टोर करने की एक सर्विस है. आप अपने डिवाइस में से किसी भी फाइल को Google Cloud में अपलोड करके Save कर सकते हैं. आपकी फाइल सालों तक Google Cloud में ही स्टोर रहती है और जब आप चाहें फाइल को एक्सेस कर सकते हैं.

#4 – Google Container Engine (गूगल कंटेनर इंजन)

Google Container Engine गूगल के सार्वजनिक क्लाउड में उपयोग होने वाले Docker container को चलाने और मैनेज करने के लिए विकसित किया गया है. Google Container Engine ओपन सोर्स Kubernetes system के द्वारा संचालित है जिसे कि गूगल ने मूल रूप से container को मैनेज करने के लिए बनाया था.

GKE सभी कंटेनरों को एक क्लस्टर में schedule करता है और फिर उन्हें परिभाषित शर्तों और आवश्यकताओं के आधार automatically प्रबंधित करता है.

#5 – Data Processing (डाटा प्रोसेसिंग)

Google cloud डेटा प्रोसेसिंग की सर्विस भी देता है जिसमें analytics भी शामिल हैं. प्लेटफ़ॉर्म में Google Cloud Dataflow भी मौजूद है जो बड़े पैमाने पर डेटा प्रोसेसिंग के लिए Apache Spark और Hadoop सर्विस प्रदान करता है.

#6 – Artificial Intelligence (आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस)

Artificial Intelligence यानि AI गूगल को cloud machine learning engine प्रदान करवाता है. यह भी एक प्रकार की सर्विस है जो यूजर को मशीन लर्निंग मॉडल को समझने में सक्षम बनाती है.

#7 – Internet of Things (IoT) इंटरनेट ऑफ़ थिंग्स

गूगल अपनी सेवायें Internet of Things को भी प्रदान करवाता है. इसमें Google cloud  IoT core की सर्विस मौजूद है जो प्रबंधित सेवाओं की एक श्रंखला है जिसकी मदद से यूजर IoT डिवाइस के इस्तेमाल से डेटा को उपयोग तथा मैनेज कर सकते हैं.

गूगल क्लाउड काम कैसे करता है?

Google cloud का काम होता है ये बड़े पैमाने मे हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर को remotely एक्सेस करता है यूजर वेब इंटरफ़ेस के जरिये कोई भी टूल को एक्सेस कर सकते है. यूजर अपनी अपनी वेबसाइट बनाने के लिए जरूरत के अनुसार से resource का इस्तेमाल कर सकते हैं. Google cloud आपको बहुत से विकल्प देता है अपनी पसंद की संरचना करने के लिए आप कोई भी टूल को एक्सेस कर सकते है.

गूगल क्लाउड की कीमत (Google Cloud Price)

Google cloud की कीमत की बात करे तो इसमें आपको दूसरे क्लाउड प्लेटफॉर्म की तरह भुगतान करना होता है. वैसे तो इसमें कोई फिक्स कीमत नही होती है आप जिस भी क्लाउड resource का इस्तेमाल करेंगें आपको सिर्फ उसका ही पैसा देना होता है हर किसी का अलग अलग कीमत होती है. Google cloud pay as you go मॉडल को फॉलो करता है.

गूगल क्लाउड  का सर्टिफिकेट (Google Cloud Certificate)

Google cloud प्लेटफॉर्म क्लाउड से सम्बंधित ट्रेनिंग प्रोग्राम करता है और सर्टिफिकेट भी प्रदान करता है जिसमें cloud infrastructure, डाटा learning, मशीन learning और एप्लीकेशन development आदि शामिल हैं. आपको 3 Google cloud सर्टिफिकेट मिल सकते है –

  • Certified professional cloud architect
  • Certified professional data engineer
  • Certified professional G suite administrator

Google cloud के फायदे (advantages of Google cloud)

अब बात करते है Google cloud के फायदे के बारे मे जो नीचे दिये गए है-

  • Cloud स्टोरेज के माध्यम से हम अपने cloud मे सेव डेटा को कही भी और कभी भी एक्सेस कर सकते है.
  • गूगल cloud सुरक्षा के लिए बेहतर विकल्प है, इसकी अच्छी सुरक्षा के कारण इसको ज्यादा इस्तमाल किया जाता है.
  • गूगल cloud cost efficient है क्युकी आपको सिर्फ उसका ही पैसा देना होता है जो resource आप इस्तेमाल कर रहे होते है.
  • गूगल क्लाउड Recovery और backup जैसी सुविधा भी आपको देता है.
  • गूगल cloud Automation synchronize का ऑपशन भी आपको देता है.
  • Google Cloud प्लेटफ़ॉर्म क्लाउड से सम्बंधित ट्रेनिंग प्रोग्राम को प्रदान करवाता है, यूजर क्लाउड की ट्रेनिंग लेकर सर्टिफिकेट प्राप्त कर सकते हैं और अच्छी कंपनियों में नौकरी प्राप्त कर सकते हैं.
  • Google Cloud यूजर के फायदे के लिए अपनी सर्विस में निरंतर विस्तार कर रहा है.

Google Cloud से सम्बंधित सामान्य प्रश्न

गूगल क्लाउड क्या होता है?

Google Cloud Platform गूगल के द्वारा प्रदान की जाने वाली क्लाउड कंप्यूटिंग सर्विस का एक समूह है जो यूजर को विभिन्न कार्यों के लिए क्लाउड कंप्यूटिंग संसाधनों को उपलब्ध करवाता है.

गूगल क्लाउड को कब विकसित किया गया?

Google Cloud Platform को गूगल कंपनी के द्वारा 7 अप्रैल 2008 को लांच किया गया.

गूगल क्लाउड की कीमत क्या है?

Google Cloud के हर एक resource के लिए अलग – अलग कीमतें निर्धारित की गयी है आपको केवल उतना ही Pay करना होता है जितना resource आप इस्तेमाल करेंगें.

क्लाउड स्टोरेज प्लेटफ़ॉर्म का उदाहरण क्या है?

क्लाउड स्टोरेज प्लेटफ़ॉर्म का सबसे बढ़िया उदाहरण Google Drive है जिसमें कि डेटा क्लाउड में स्टोर होता है. गूगल ड्राइव में यूजर को 15 GB फ्री क्लाउड स्पेस मिलता है. इसके लिए यूजर के पास Gmail ID का होना जरुरी है.

इन्हें भी पढ़ें

निष्कर्ष: गूगल क्लाउड प्लेटफार्म क्या है हिंदी में

आज के इस लेख में हमने आपको Google cloud Platform क्या है, यह कैसे काम करता है, गूगल क्लाउड की सर्विस तथा गूगल क्लाउड के फायदों के बारे में पूरी जानकारी बहुत ही आसान शब्दों में बताई है. हमें पूरी उम्मीद है कि इस लेख को अंत तक पढने के बाद आप Google cloud को अच्छी प्रकार से समझ गए होंगें.

यदि अभी भी आपके मन में Google cloud को लेकर कोई प्रश्न हैं तो हमें निसंकोच कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं, हम जल्दी ही आपके सवालों का जवाब देने की कोशिस करेंगें. इस लेख में इतना ही मिलते हैं एक नए लेख में तक तक आप पढ़ते रहें Techshole ब्लॉग को.

नमस्कार ! मेरा नाम रणजीत सिंह है और इस Best Hindi Blog का संस्थापक हूँ. मुझे ब्लॉग्गिंग, एसईओ और डिजिटल मार्केटिंग जैसे विषयों पर गहरी नॉलेज है! हमारे ब्लॉग पर आने के लिए धन्यवाद.

Leave a Comment