हार्ड डिस्क ड्राइव क्या है इसके प्रकार,भाग और कार्य हिंदी में (Hard Disk in Hindi)

Type Of Hard Disk Drive in Hindi: दोस्तों क्या आपने कभी सोचा है कंप्यूटर में हम जितना भी काम करते हैं वह Data कहाँ स्टोर होता है. अगर आप Technical Field से हो तो आप इसका Answer आसानी से दे सकते हो और यदि आप Technical Field से नहीं हैं तो आप शायद नहीं जानते होंगे कि कंप्यूटर में Data कहाँ Store होता है.

कंप्यूटर में हम कुछ भी Data स्टोर करते हैं तो वह हार्ड डिस्क में स्टोर होता है, पर क्या आप जानते हैं Hard Disk Kya Hai, हार्ड डिस्क कितने प्रकार का होता है, हार्ड डिस्क के मुख्य भाग कौन से हैं, हार्ड डिस्क के क्या कार्य हैं, हार्ड डिस्क के फायदे और नुकसान क्या हैं.

अगर आप हार्ड डिस्क से जुडी इसी प्रकार की तमाम पूरी जानकारी पाना चाहते हो तो आप एकदम सही लेख पर आये हैं, इस लेख में हमने आपको हार्ड डिस्क के बारे में पूरी जानकारी दी है जिससे आपको हार्ड डिस्क के बारे में समझने में आसानी होगी, तो चलिए बिना किसी देरी के शुरू करते हैं इस लेख को.

हार्ड डिस्क क्या है इसकी क्या आवश्यकता (What is Hard Disk in Hindi)

हार्ड डिस्क कंप्यूटर में एक Data Storage हार्डवेयर डिवाइस होता है. हार्ड डिस्क ड्राइव (Hard Disk Drive) कंप्यूटर में सबसे बड़ा स्टोरेज डिवाइस होता है. यह एक Non Volatile Memory होती है जिसमें Data Permanent Store होता है.

हार्ड डिस्क ड्राइव की आवश्यकता इसलिए होती है क्यों की Hard Disk में जो भी Data Store होता है वह तब तक बना रहता है जब तक कि यूजर जानबूझकर Data को Delete न कर दे. हार्ड डिस्क Data को लम्बे समय तक Store कर सकता है और Power Supply बंद होने के बाद भी इसमें मौजूद Data Delete नहीं होता है.

Hard Disk कंप्यूटर की Secondary Memory होती है जिसमें कंप्यूटर में उपस्थित सभी प्रकार का Data स्टोर होता है और कंप्यूटर Operating System में चल रहे Program की File भी हार्ड डिस्क में स्टोर होती हैं. हार्ड डिस्क बड़ी मात्रा में Data को स्टोर कर सकता है.

2TB Sata

पहले के समय में हार्ड डिस्क की स्टोरेज क्षमता बहुत कम होती थी लेकिन आज के समय में मार्किट में ऐसे हार्ड डिस्क मौजूद हैं जिनकी स्टोरेज क्षमता 2TB तक की है और Speed भी बहुत अधिक होती है. हार्ड डिस्क की स्पीड को RPM (Revolution Per Minute ) में मापा जाता है.

हार्ड डिस्क के अन्य नाम (Name Of Hard Disk Drive In Hindi)

हार्ड डिस्क को कुछ अन्य नामों से भी जाना जाता है जैसे कि – HDD, HD, हार्ड ड्राइव आदि. इसलिए आप हार्ड डिस्क और हार्ड ड्राइव में Confuse मत होना.

हार्ड डिस्क का इतिहास (History of Hard Disk in Hindi)

दुनिया में पहली हार्ड डिस्क ड्राइव का निर्माण 13 सितम्बर 1956 को IBM कंपनी के द्वारा किया गया. IBM ने 305 RAMAC नाम के सुपर कंप्यूटर को लांच किया जिसमें Hard Disk लगी हुई थी और इस हार्ड डिस्क का वजन 1 टन से भी अधिक था और इसकी स्टोरेज Capacity मात्र 5 MB की थी. और यह एक Inbuilt हार्ड डिस्क थी मतलब इसे कंप्यूटर से अलग नहीं किया जा सकता था.

1963 में IBM कंपनी ने ही पहली ऐसी हार्ड डिस्क को बनाया जिसे कंप्यूटर से अलग किया जा सकता था, इसकी Storage Capacity 2.6 MB थी.

IBM लगातार हार्ड डिस्क पर काम कर रहा था और नतीजन 1980 में IBM ने पहला ऐसा हार्ड डिस्क बनाया जिसकी स्टोरेज क्षमता 1 GB थी.

इसके बाद भी हार्ड डिस्क को लगातार Improve किया गया और अनेक कंपनियां भी अस्तित्व में आई जिन्होंने बहुत Advance हार्ड डिस्क तैयार किये जैसे Seagate. आज के समय में मार्किट में बहुत Advance हार्ड डिस्क उपलब्ध हैं जिनकी स्टोरेज क्षमता 1 TB तक की हैं.

हार्ड डिस्क के प्रकार (Type of Hard Disk in Hindi)

हार्ड डिस्क की क्षमता और गुणों के आधार पर इसे चार भागों में बांटा गया है जो निम्न प्रकार से हैं –

  • PATA (पाटा)
  • SATA (साटा)
  • SSD (एसएसडी)
  • SCSI (एससीएसआई)

चलिए अब इनके बारे में एक – एक कर विस्तार से जानते हैं –

#1 – PATA (Parallel Advance Technology Attachment)

PATA को सबसे पहले Western Digital ने 1986 में बनाया था. यह ड्राइव डिस्क 1 सेकंड में केवल 8 Bit Data को Transfer करने में सक्षम था. 40 पिनों वाला यह PATA Drive Magnetism की सहायता से Data को स्टोर करता था.

1986 – 87 के समय में PATA ड्राइव का इस्तेमाल बहुत अधिक होता था लेकिन टेक्नोलॉजी बढ़ने के साथ – साथ अपनी Low Data Transfer Rate के कारण PATA ड्राइव के इस्तेमाल में भी गिरावट आने लगी.

#2 – SATA (Serial Advanced Technology Attachment)

SATA ड्राइव डिस्क PATA की तुलना में बेहतर है. SATA ड्राइव में पतली केबल का इस्तेमाल किया जाता है यह केबल बहुत Flexible होती हैं. Data Transfer की बात करें तो SATA ड्राइव की मदद से 300 MB Data एक सेकंड में Transfer किया जा सकता है.

आज के समय में कंप्यूटर और लैपटॉप में अधिकतर SATA ड्राइव का इस्तेमाल किया जाता है. SATA हार्ड ड्राइव की कीमत भी कम है और कार्य करने की क्षमता भी अच्छी है.

#3 – SSD (Solid State Drive)

SSD बाकीं अन्य ड्राइव की तुलना में सबसे बेहतर Speed प्रदान करती है. SSD सबसे Latest डिस्क ड्राइव है. SSD में Data को स्टोर करने के लिए Flash Memory Technology का इस्तेमाल किया जाता है. SSD में एक माइक्रोचिप लगी होती है जो Data को बहुत जल्दी कॉपी कर लेती है.

SSD अन्य ड्राइव की तुलना में महंगी होती है, और स्टोरेज क्षमता भी कम होती हैं. SSD का इस्तेमाल अधिकतर कंपनियां करती हैं.

#4 – SCSI (Small Computer System Interface)

SCSI हार्ड डिस्क का इस्तेमाल छोटे कंप्यूटर में किया जाता है. यह SATA और PATA की तुलना में बहुत अधिक Fast और Advance होती है. SCSI हर सेकंड 640 MB तक का Data Transfer करने में सक्षम है.

हार्ड डिस्क के भाग (Part of Hard Disk in Hindi)

एक हार्ड डिस्क में बहुत सारे Part होते हैं, जिनके बारे में नीचे बताया गया है –

  • Platter – Platter एक गोलाकार डिस्क होती है जो कि हार्ड डिस्क के अन्दर लगी होती है.
  • Read Write Head – यह एक छोटा सा चुम्बक होता है जो कि Platter के ऊपर से Lift Side में खिसकता है.
  • Read Write Arm – यह Read Write Head का पिछला हिस्सा होता है.
  • Actuator – इसकी मदद से Read Write Arm घूमता है.
  • Spindle – यह एक मोटर है जो कि Platter के बीच में स्थित होती है इसकी सहायता से Platter घूमता है.
  • Magnetic Platter – इसमें Digital Information को Magnetic रूप में स्टोर किया जाता है.
  • Logic Board – यह एक चिप होती है जो हार्ड डिस्क ड्राइव में इनपुट और आउटपुट Information को सुरक्षित रखती है.
  • Circuit Board – यह Platter से Data के प्रभाव को नियंत्रित करने का काम करता है.
  • Connector – कनेक्टर की मदद से Circuit Board से Read Write और Platter तक Data पहुँचता है.

हार्ड डिस्क का कार्य (Uses of Hard Disk in Hindi)

एक हार्ड डिस्क का इस्तेमाल मुख्य रूप में कंप्यूटर में Data को Store करने का होता है. हार्ड डिस्क एक Permanent Storage होता है. हार्ड डिस्क में फाइल, इमेज, विडियो, सॉफ्टवेयर, ऑपरेटिंग सिस्टम सब कुछ Store होता है.

एक हार्ड डिस्क में कितना Data स्टोर होगा यह हार्ड डिस्क के Storage Capacity पर निर्भर करता है. आधुनिक समय में मार्किट में ऐसे हार्ड डिस्क मौजूद हैं जो Terabyte में डेटा को स्टोर करने की क्षमता रखते हैं.

हार्ड डिस्क के फायदे (Advantage of Hard Disk in Hindi)

एक कंप्यूटर सिस्टम में हार्ड डिस्क के बहुत सारे फायदे होते हैं जैसे कि –

  • हार्ड डिस्क में स्टोर Data Delete नहीं होता है लाइट चले जाने के बाद भी.
  • हार्ड डिस्क को किसी दुसरे कंप्यूटर में Attach करके हम अपना Data Access कर सकते हैं.
  • हार्ड डिस्क कंप्यूटर के ऑपरेटिंग सिस्टम में चल रहे प्रोग्राम के फाइल को भी स्टोर करती है.
  • हार्ड डिस्क में स्टोरेज बहुत मिल जाता है.
  • हार्ड डिस्क बहुत ही हल्की होती है और इसका आकार भी छोटा होता है जिससे यह अधिक स्थान नहीं घेरती है.
  • अगर आपको हार्ड डिस्क की आवश्यकता दुसरे सिस्टम में पड़ रही है तो आप हार्ड डिस्क को दुसरे PC में भी लगा सकते हैं.
  • हार्ड डिस्क में स्टोर Data को आप सालों बाद भी इस्तेमाल कर सकते हैं, इसमें Data सुरक्षित रहता है.

हार्ड डिस्क के नुकसान (Disadvantage of Hard Disk in Hindi)

एक ओर जहाँ हार्ड डिस्क के बहुत सारे फायदे होते हैं वही दूसरी  ओर इसके कुछ नुकसान भी हैं जैसे कि–

  • अगर हार्ड डिस्क Damage हो जाती है तो कंप्यूटर काम करना बंद कर देगा और आपका Important Data भी Lost हो जाएगा.
  • हार्ड डिस्क में अधिक लोड पड़ने पर कंप्यूटर off हो जाता है.
  • SSD की तुलना में हार्ड डिस्क ड्राइव (HDD) की Speed Slow होती है.

हार्ड डिस्क निर्माता कंपनी (Hard Disk Drive Company)

आज मार्किट में बहुत सारी कंपनियां हैं जो हार्ड डिस्क बनाती हैं, पर उनमें से कुछ प्रमुख कंपनियां निम्न प्रकार से हैं –

  • Western Digital (वेस्टर्न डिजिटल)
  • Seagate Technology (सीगेट टेक्नोलॉजी)
  • Toshiba (तोशिबा)
  • G – Technology (जी-टेक्नोलॉजी)
  • EMC Corporation (एमसी कारपोरेशन)
  • Quantum (क्वांटम)
  • Hitachi (हिताची)

इन्हें भी पढ़े 

FAQ For Hard Disk Drive in Hindi

हार्ड डिस्क क्या है समझाइए?

हार्ड डिस्क कंप्यूटर की Secondary Memory होती हैं जिसमें Data Permanent Store होता है. हार्ड डिस्क में स्टोर हुआ Data तब तक Delete नहीं होता है जब तक कि यूजर खुद Delete न करें.

हार्ड डिस्क का क्या काम होता है?

हार्ड डिस्क का मुख्य काम कंप्यूटर में Data को स्टोर करने का होता है.

HDD का पूरा नाम क्या है?

HDD का पूरा नाम Hard Disk Drive है.

हार्ड डिस्क की गति किसमें मापी जाती है?

हार्ड डिस्क की गति RPM (Revolution Per Minute) में मापी जाती है.

कंप्यूटर में हार्ड डिस्क कहाँ डाली जाती है?

कंप्यूटर में हार्ड डिस्क डिस्क ड्राइव में डाली जाती है.

अंतिम शब्द: Hard Disk क्या है इन हिंदी

इस लेख को पढने के बाद आप समझ गए होंगे कि हार्ड डिस्क कंप्यूटर में कितनी Importance रखता है, अगर हार्ड डिस्क कंप्यूटर में नहीं होता है हमारा Data Permanent Store नहीं हो पायेगा और हार्ड डिस्क की स्टोरेज क्षमता जितनी अधिक होगी उतना ही अधिक Data वह स्टोर कर पायेगा.

उम्मीद करते हैं आपको हमारे द्वारा लिखा गया यह लेख Hard Disk Drive Kya Hai In Hindi जरुर पसंद आया होगा, इस लेख What Is Hard Drive In Hindi को अपने दोस्तों के साथ शेयर करना मत भूलियेगा और कमेंट बॉक्स में आप लेख से विषय में अपनी प्रतिक्रिया दे सकते हैं. 

Editorial Staff
Editorial Staff

Techshole इंडिया की Best हिंदी ब्लॉग में से एक बनने की दिशा में अग्रसर है. यहाँ इस ब्लॉग पर हम Blogging, Computer, Tech, इंटरनेट और पैसे कमाए से सम्बन्धित लेख साझा करते है.