mPIN क्या है काम कैसे करता है और कैसे प्राप्त करें (MPIN in Hindi)

mPIN Kya Hota Hai In Hindi: दोस्तो आज के समय में हर चीज ऑनलाइन हो चुकी है, लोग अपने स्मार्टफोन के जरिये अनेक प्रकार के कार्यों को घर बैठे ही कर सकते हैं, जिसमें कि नेट बैंकिंग से ऑनलाइन भुगतान करना भी है. यूजर डिजिटल तरीकों से मोबाइल के द्वारा कुछ ही सेकंड में पैसे भेज सकते हैं या प्राप्त कर सकते हैं.

लेकिन इंटरनेट पर बहुत से बुरे लोग भी बैठे है जो लोगों के साथ धोखा – धडी करके उनके बैंक बैलेंस को सेकंडों में उड़ा लेते हैं. बढ़ते ऑनलाइन भुगतान में सुरक्षा को बढ़ावा देने के लिए MPIN बहुत जरुरी है.

MPIN एक ऐसा सुरक्षा कोड होता है जो मोबाइल बैंकिंग को सुरक्षित बनाता है. अगर आप भी मोबाइल से पैसों की लेनदेन करते हैं तो आपको MPIN के बारे में पूरी जानकारी होनी चाहिए, जो कि आपको इस लेख में मिलेगी.

आज के इस लेख में हमने आपको MPIN क्या है, MPIN काम कैसे करता है, MPIN क्यों जरुरी है, MPIN का उपयोग, MPIN के फायदे तथा MPIN कैसे प्राप्त करें की पूरी जानकारी दी है, MPIN को बारीकी से समझने के लिए लेख को अंत तक जरुर पढ़ें.

mPIN क्या है काम कैसे करता है और कैसे प्राप्त करें (MPIN Full Form in Hindi)

तो चलिए आपका अधिक समय ना लेते हुए शुरू करते हैं आज के इस लेख को और जानते हैं MPIN क्या है हिंदी में विस्तार से.

MPIN का पूरा नाम (MPIN Full Form in Hindi)

MPIN का पूरा नाम Mobile Banking Personal Identification Number होता है जिसे कि हिंदी में मोबाइल बैंकिंग व्यक्तिगत पहचान संख्या कहते हैं.

MPIN क्या है (What is MPIN in Hindi)

MPIN मोबाइल बैंकिंग में इस्तेमाल किया जाने वाला एक सुरक्षा कोड होता है जिसका इस्तेमाल मोबाइल से ऑनलाइन लेन – देन के समय किया जाता है. सामान्य रूप से MPIN ATM पिन की तरह 4 अंकों का एक कोड होता है लेकिन कई बैंक में 6 अंकों का भी MPIN होता है.

MPIN को आप ATM पिन की तरह ही समझ सकते हैं, जैसे आपको ATM से पैसे निकालने के लिए अपने ATM पिन की आवश्यकता होती है उसी प्रकार मोबाइल से पैसे ट्रान्सफर करने में MPIN की आवश्यकता होती है. अगर आप मोबाइल से पैसों की लेन – देन करते हैं तो आपको अपना MPIN कभी भी किसी व्यक्ति को नहीं बताना चाहिए, इसे हमेशा गोपनीय ही रखें.

MPIN का उपयोग मोबाइल से लेन – देन करने में ही कर सकते हैं, यह मोबाइल बैंकिंग, USSD बैंकिंग और UPI भुगतानों को सुरक्षित बनाता है. जिस प्रकार बिना ATM पिन के ATM से पैसे निकलना संभव नहीं है उसी प्रकार बिना MPIN के मोबाइल बैंकिंग संभव नहीं है.

जो व्यक्ति मोबाइल बैंकिंग का इस्तेमाल करता है वही MPIN का इस्तेमाल कर सकता है. आप बैंक के माध्यम से रजिस्ट्रेशन करके या फिर अपने मोबाइल में USSD और UPI ऐप से MPIN प्राप्त कर सकते हैं.

MPIN कैसे काम करता है

MPIN मोबाइल बैंकिंग से एक सुरक्षा कवच की भांति काम करता है. जब भी आप मोबाइल में USSD या UPI के माध्यम से पेमेंट करते हैं तो Transaction कम्पलीट करने के लिए आपको MPIN दर्ज करना होता है. बिना MPIN के Transaction कम्पलीट नहीं होती है.

MPIN एक सेंसिटिव कोड होता है, इसलिए इसे हमेशा गोपनीय रखने की सलाह दी जाती है. अगर आपकी MPIN किसी अन्य व्यक्ति के हाथ लग गयी है वह आपके मोबाइल से लेन  देन कर सकता है और आपके साथ Fraud हो सकता है. आप MPIN को किसी भी व्यक्ति को ना बतायें.

MPIN क्यों जरुरी होता है

बैंक से होने वाले सभी लेनदेन में 2 स्तर की सुरक्षा का होना जरुरी है जिससे कि किसी भी व्यक्ति के साथ धोखा – धडी ना हो सके. जैसे आपको ATM से पैसों की लेनदेन करते समय ATM कार्ड और ATM पिन की जरुरत होती है, यहाँ पर पहले स्तर की सुरक्षा ATM कार्ड है और दुसरे स्तर की सुरक्षा ATM पिन है.

इसी प्रकार से मोबाइल से पैसों की लेनदेन करने में मोबाइल नंबर के साथ MPIN की आवश्यकता होती है. यहाँ पर पहले स्तर की सुरक्षा मोबाइल नंबर है और दुसरे स्तर की सुरक्षा MPIN है. अगर MPIN नहीं होगा तो कोई भी अंजान व्यक्ति आपके मोबाइल से पेमेंट कर सकता है. MPIN यह सुनिश्चित करता है कि transaction सही व्यक्ति के द्वारा की जा रही है, इसलिए MPIN मोबाइल बैंकिंग में बहुत जरुरी होता है.

MPIN का इस्तेमाल कहाँ किया जाता है

जैसा कि हम आपको पहले ही बता चुके हैं आप MPIN का इस्तेमाल मोबाइल बैंकिंग में कर सकते हैं. आप निम्नलिखित बैंकिंग सुविधाओं से पैसों की लेनदेन में MPIN का इस्तेमाल कर सकते हैं.

  • मोबाइल बैंकिंग एप्लीकेशन
  • UPI पेमेंट
  • SMS बैंकिंग
  • USSD बैंकिंग
  • IMPS
  • IVR

MPIN के फायदे (Advantage of MPIN in Hindi)

मोबाइल बैंकिंग में MPIN के अनेक सारे फायदे होते हैं जैसे कि –

  • MPIN मोबाइल बैंकिंग को सुरक्षित बनाता है.
  • MPIN 4 या 6 अंकों का कोड होता है जिसे आप आसानी से घर बैठे जनरेट कर सकते हैं, और जरुरत पड़ने पर बदल भी सकते हैं.
  • MPIN को याद रखना बहुत ही आसान है.
  • यदि आपका मोबाइल किसी गलत व्यक्ति के हाथ लग जाता है तो भी वह बिना MPIN के आपके मोबाइल से पैसों की लेनदेन नहीं कर सकता है.

MPIN कैसे प्राप्त करें/कैसे बनाए

MPIN को प्राप्त करने के दो तरीके मौजूद हैं, पहला आवेदक अपना मोबाइल बैंकिंग रजिस्ट्रेशन करवाकर बैंक से MPIN प्राप्त कर सकते हैं और दूसरा आवेदक घर बैठे ही UPI App या USSD कोड के जरिये भी MPIN प्राप्त कर सकते हैं. हमने आपकी सहूलियत के लिए यहाँ पर घर बैठे MPIN जनरेट करने के तरीके के बारे में बताया है.

USSD कोड से MPIN कैसे प्राप्त करें

USSD कोड से MPIN बनाने की प्रोसेस निम्नलिखित है –

  • सबसे पहले आप अपने मोबाइल नंबर से *99# को डायल कर लीजिये.
  • इसके बाद आपको अपना USSD सेवा से अपना बैंक अकाउंट लिंक करना है.
  • इसके लिए आप बैंक का 3 अक्षरों वाला नाम या IFSC के शुरुवाती 4 अक्षर लिखकर send कर दीजिये.
  • अगले menu पर आपको 7 लिखकर send करना है.
  • MPIN जनरेट करने के लिए 1 टाइप करके send कर दीजिये.
  • अंत में आप दिए गए निर्देशों को पढ़कर अपनी सुविधा के अनुसार MPIN को टाइप करके सबमिट कर लीजिये.
  • इस प्रकार से आप किसी भी बैंक से MPIN बना सकते हैं.

UPI App से MPIN कैसे प्राप्त करें

UPI App से MPIN बनाने की प्रोसेस निम्नलिखित है –

  • सबसे पहले किसी भी UPI App जैसे Google Pay, PhonePe को अपने मोबाइल में इनस्टॉल कर लीजिये और उसमें अपने मोबाइल नंबर से रजिस्टर कीजिये.
  • जिस भी बैंक का आप MPIN जनरेट करना चाहते हैं उस बैंक को UPI ऐप से लिंक कीजिये.
  • इसके बाद आपको Set MPIN के विकल्प पर क्लिक करना है.
  • आप अपनी सुविधा अनुसार एक MPIN बना लीजिये और इसे Confirm करने के लिए दुबारा दर्ज कीजिये.
  • इस प्रकार से आप बहुत आसानी से UPI App के द्वारा MPIN जनरेट कर सकते हैं.

मोबाइल बैंकिंग को सुरक्षित कैसे रखें

मोबाइल बैंकिंग को सुरक्षित बनाने के लिए आप कुछ निम्नलिखित बातों का ध्यान दे सकते हैं –

  • आपको हमेशा अपना MPIN गुप्त रखना चाहिए.
  • एक ही सिम से मोबाइल बैंकिंग में रजिस्टर कीजिये.
  • किसी भी प्रकार के Fake कॉल या मैसेज में अपने बैंक से सम्बंधित कुछ भी जानकारी ना दें.
  • अपने मोबाइल बैंकिंग में जमा पैसों को याद रखें और समय – समय पर उसे Calculate भी करें.
  • फोन खो जाने पर मोबाइल बैंकिंग की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए मोबाइल बैंकिंग के हेल्पलाइन नंबर पर कॉल करें.

इन्हें भी पढ़े

FAQ: MPIN Kya Hai In Hindi

4 अंक MPIN क्या है?

MPIN मोबाइल बैंकिंग के लिए एक सिक्यूरिटी कोड होता है जो मोबाइल से USSD बैंकिंग, UPI बैंकिंग आदि को सुरक्षित बनाता है.

MPIN का उपयोग कहाँ किया जा सकता है?

MPIN का उपयोग मोबाइल बैंकिंग, UPI बैंकिंग, USSD बैंकिंग. SMS बैंकिंग, IMPS और IVR में किया जा सकता है.

मैं अपना MPIN कैसे प्राप्त कर सकता हूँ?

आप ऑनलाइन आसानी से UPI ऐप या USSD कोड की मदद से अपना MPIN जनरेट कर सकते हैं. इसके अलावा आप बैंक में रजिस्ट्रेशन करके भी MPIN प्राप्त कर सकते हैं.

MPIN भूल जाने पर क्या करें?

अगर आप अपना MPIN भूल गए हैं तो चिंता करने की कोई बात नहीं, क्योंकि आप किसी भी समय USSD कोड, UPI App, नेट बैंकिंग आदि से अपना नया MPIN जनरेट कर सकते हैं.

निष्कर्ष – एमपिन क्या है हिंदी में

आज के इस लेख में हमने आपको MPIN Kya Hai In Hindi की पूरी जानकारी दी है और हमें पूरी आशा है कि आपको यह आर्टिकल पसंद भी आया होगा. अगर आप भी मोबाइल बैंकिंग करते हैं तो आपको अपना MPIN हमेशा गुप्त ही रखना चाहिए ताकि आपके साथ किसी प्रकार का फ्रॉड ना हो सके.

तो दोस्तों इस लेख में इतना ही, उम्मीद करते हैं इस लेख से आपको MPIN के बारे में कुछ सीखने को मिला होगा. यदि इस लेख से आपको कुछ फायदा पहुंचा है तो इस लेख को अपने अन्य दोस्तों के साथ भी शेयर करें और उन्हें भी MPIN की Importance को बतायें.

नमस्कार ! मेरा नाम रणजीत सिंह है और इस Best Hindi Blog का संस्थापक हूँ. मुझे ब्लॉग्गिंग, एसईओ और डिजिटल मार्केटिंग जैसे विषयों पर गहरी नॉलेज है! हमारे ब्लॉग पर आने के लिए धन्यवाद.

Leave a Comment