Output Device क्या है (प्रकार और उदाहरण) Output Device In Hindi

Output Device Kya Hai In Hindi– दोस्तों कंप्यूटर आउटपुट डिवाइस के बारे में आपने जरुर सुना होगा पर क्या आप जानते हैं कंप्यूटर में आउटपुट डिवाइस कौन – कौन से हैं और आउटपुट डिवाइस क्या काम रहता है. 

अगर आप कंप्यूटर के विभिन्न प्रकार के आउटपुट डिवाइस के बारे में नहीं जानते हैं तो इस लेख को अंत तक पढ़िए इसमें हमने आपको Computer Output Device Kya hai और कंप्यूटर के 7 ऐसे आउटपुट डिवाइस के बारे में बताया है जिनके बारे में शायद ही आपने सुना हो. 

Input Device क्या होता है इसे हम आपको पिछले लेख में बता चुके हैं. Input Device के बारे में अधिक जानते के लिए आप आप हमारे पिछले लेख को पढ़ सकते हैं. 

चलिए अब बिना समय गवाएं शुरू करते हैं इस लेख और जानते हैं  आउटपुट डिवाइस क्या होता है.

कंप्यूटर आउटपुट डिवाइस क्या है (What is Output Device In Hindi)

कंप्यूटर का Output Device वह भाग होता है जो इनपुट डिवाइस से निर्देशों को प्राप्त करने के बाद निर्देशों को Processing करके परिणामों को हार्डकॉपी या सॉफ्टकॉपी के रूप में प्रदर्शित करता है. 

आउटपुट को हिंदी में निर्गम यंत्र कहते हैं.

आउटपुट की परिभाषा

इनपुट डिवाइस से प्राप्त किसी भी निर्देश को ग्रहण कर उसे प्रोसेसिंग करके हार्डकॉपी या सॉफ्टकॉपी के रूप में प्रदर्शित करना या प्रदान करने का काम आउटपुट डिवाइस का होता है.

Output दो शब्दों से मिलकर बना हुआ है. Out का मतलब होता है बाहर और Put का मतलब होता है रखना. मतलब कि कंप्यूटर को दिए गए निर्देशों के आधार पर यह Data को Process करके बाहर दिखाती है. Ex – Monitor, Speaker, Printer etc.

जैसे कि आप कंप्यूटर में कोई Video, Movie देखते हो, गाने सुनते हैं, किसी Document का Printout निकलते हो यह सब Output Device के द्वारा किया जाता है. 

आउटपुट डिवाइस के उदाहरण (Example Output Device In Hindi)

कंप्यूटर में बहुत प्रकार के Output Device होते हैं जिसमें से कुछ Important Device के उदाहरण नीचे बताया गया है. 

  1. Monitor (मॉनिटर)
  2. Printer (प्रिंटर)
  3. Speaker (स्पीकर)
  4. Projector (प्रोजेक्टर)
  5. Plotter (प्लॉटर)
  6. Headphone (हैडफ़ोन)
  7. Speech Synthesizer  (स्पीच सिंथेसाइज़र)
  8. Ear phone (एअर फ़ोन)
  9. sound card (साउंड कार्ड)

Computer Output Device के प्रकार (Type of Output Device in Hindi)

आउटपुट डिवाइस के निम्न प्रकार है जिन्हें इस लेख में बताया गया है.

1 – Monitor (मॉनिटर) 

Monitor कंप्यूटर का Primary Output Device होता है इसके बिना कंप्यूटर में कुछ भी काम करना लगभग असंभव है. क्योकि बिना मॉनिटर के हमें पता नहीं चलेगा कि कंप्यूटर में क्या चल रहा है. 

Monitor को VDU (Visual Display Unit ) भी कहते हैं. क्योकि इसका उपयोग Output को Display करने के लिए किया जाता है. Monitor में Output Result Image, Text और Video के रूप में हो सकते हैं. 

LCD-Monitor white colour
Monitor

TV की तरह दिखाई देने वाला यह Electronic Device परिणामों को Softcopy के रूप में दिखाता है. यह एक बहुत ही Powerful और कंप्यूटर का महत्वपूर्ण Output Device है. 

बहुत सरे लोग मॉनिटर को ही कंप्यूटर समझते हैं पर कंप्यूटर और मॉनिटर दोनों अलग – अलग हैं. मॉनिटर कंप्यूटर का केवल एक भाग है जबकि कंप्यूटर पूरा System होता है. 

Monitor के कुछ अन्य नाम 

मॉनिटर को अन्य बहुत नामों से जाना जाता है जैसे –  Screen, Video Display, Video Display Unit, Video Display Terminal, Visual Display Unit etc.

Monitor के प्रकार  (type of Monitor)

Display के आधार पर Monitor चार प्रकार के होते हैं – 

CTR Monitor ( Cathode Ray Tube ) – Cathode Ray Tube आकार में बड़े और वजनी मॉनिटर होते हैं. आधुनिक समय में इस प्रकार के मॉनिटर का बहुत कम इस्तेमाल होता है. ये मॉनिटर टेलीविज़न के लिए बनाये गए थे. 

FPD Monitor ( Flat Panel Display ) – Flat Panel Display वजन में हल्के होते हैं. आजकल इस प्रकार के मॉनिटर का बहुत अधिक मात्र में इस्तेमाल किया जाता है लगभग सभी जगह यह पाए जाते हैं. यह एक पतली स्क्रीन होती है. इसका उपयोग Display, Laptop आदि में किया जाता है. LCD और LED इसका उदहारण हैं. 

2 – Printer (प्रिंटर)

Printer एक External Output Device है जो Monitor में Display होने वाली Softcopy को Hardcopy में बदलकर परिणाम को हमें Provide कराता है. 

Computer में किसी भी Document का प्रिंटआउट निकालने के लिए Printer का इस्तेमाल किया जाता है. Printer के बिना भी हम कंप्यूटर में काम कर सकते हैं. 

Printer के प्रकार (Type Of Printer)

Printer के उपयोग करने की विधि के आधार पर इसे दो भागों में बांटा गया है. 

Impact Printer – इस प्रकार के Printer अक्षरों को कागज़ पर छापने के लिए स्याही भरी रिबन को कागज पर मारते हैं. सामान्य प्रिंटर की अपेक्षा में यह बहुत तेज आवाज करते हैं. इनका प्रयोग अक्सर ऐसे व्यवसायों में किया जाता है जहाँ Multi Part Print करना होता है. इन Printer की Quality Low होती है. 

Impact-Printer
Impact-Printer

Impact Printer उदाहरण हैं – Dot Matrix Printer, Chain Printer, Line Printer etc.

Non Impact Printer – इस प्रकार के Printer अक्षरों को कागज पर छपने के लिए स्याही भरी रिबन को कागज पर नहीं मारते हैं इसलिए इन्हें Non Impact Printer कहते हैं. यह Printer Smooth तरीके से काम करते हैं. इससे High Quality की Printing होती है. 

Non Impact Printer के उदाहरण हैं  – Laser Printer, Inkjet Printer, Photo Printer etc.

3 – Speaker (स्पीकर)

Speaker एक Output डिवाइस है जो Electronic Signal को Sound में Convert करता है. Speaker की मदद से हम कंप्यूटर में ध्वनी को सुन सकते हैं. 

कंप्यूटर में एक Component होता है जिसे Sound Card कहते हैं जिसकी मदद से Computer में ध्वनि पैदा होती है. Speaker इन्हीं Sound Card से निकलने वाली ध्वनि को Loudly Produce करते हैं. किसी – किसी कंप्यूटर में स्पीकर पहले से ही लगा होता है और किसीमें स्पीकर को बहार से लगाना होता है. 

Speaker में एल्प्लीफायर लगे होते हैं जब स्पीकर कंप्यूटर से निर्देश प्राप्त करते हैं तो एल्प्लीफायर विभिन्न आवर्ती पर कम्पन करने लगते हैं जिससे ध्वनि उत्पन्न होती है. 

Speaker के प्रकार (Type Of Speaker)

Speaker को दो भागों में बांटा गया है. 

Passive Speaker – इसमें कोई Internalएल्प्लीफायर नहीं होता है. एक वायर का उपयोग करके इस स्पीकर को एल्प्लीफायर के साथ जोड़ा जाता है. 

Powered Speaker – इस प्रकार के Speaker में Internalएल्प्लीफायर पहले से ही लगा होता है. 

4 – Projector (प्रोजेक्टर)

Projector का इस्तेमाल कंप्यूटर पर चल रहे काम को किसी बड़े परदे या किसी प्लेन सतह पर दिखाने के लिए किया जाता है. 

प्रोजेक्टर एक Light जिसे प्रोजेक्ट करना होता है उसको किसी बड़े पर्दे या दीवार पर भेजता है जिससे उस बड़े पर्दे पर कंप्यूटर में चल रही गतिविधियाँ दिखती हैं. 

Projector का इस्तेमाल करने लिए Surface को बड़ा, सीधा और सफ़ेद रंग का होना जरुरी है, तभी Surface में Clear दिखाई देगा. 

Projector का इस्तेमाल अक्सर उन जगह होता है जहाँ एक बड़े समूह के लोगों को कोई Video, Image या अन्य कोई Content दिखाना होता है. अधिकतर Business Meeting, Training, Movie hall, Classroom में प्रोजेक्टर का इस्तेमाल किया जाता है. 

5 – Plotter (प्लॉटर)

Plotter, प्रिंटर की भांति कार्य करने वाला एक आउटपुट डिवाइस होता है. लेकिन यह प्रिंटर से अलग होता है. Plotter की मदद से किसी बड़े कागज पर High Quality की Graphic प्राप्त की जा सकती है. 

Plotter में एक Multicolor Pen होती है जिसकी मदद से Plotter कंप्यूटर के द्वारा दिए गए निर्देश के अनुसार कागज पर रेखाचित्र Draw करते हैं. 

Plotter के द्वारा ग्राफ, चार्ट, मैप, बैनर, पोस्टर आदि बनाये जा सकते हैं. Plotter का इस्तेमाल Map बनाने, Building बनाने, सर्किट डाईग्राम आदि बनाने में किया जाता है. 

6 – Headphone (हैडफ़ोन)

Headphone के बारे में तो आप सभी को पता होगा. Headphone एक Output Device है जिसका इस्तेमाल कंप्यूटर की ध्वनि को सुनने के लिए किया जाता है. 

इसे सर पर बेल्ट की तरह बाँधा जाता है और इसके दोनों स्पीकर पहनने वाले के कानों के ऊपर आ जाते हैं. Headphone की ध्वनि को केवल वही इंसान सुन सकता है जो इसे पहनता है. 

इसका प्रयोग call center, कमेंटेटर आदि जगह किया जाता है. किसी Headphone में Mike भी लगा होता है जिसके द्वारा कॉल पर बात की जा सकती है. 

7 – Speech Synthesizer (स्पीच सिंथेसाइज़र)

Speech Synthesizer एक Advance कंप्यूटर आउटपुट डिवाइस है, जिसकी मदद से लिखे गए Text को आवाज में बदला जा सकता है. व्यापक रूप से इसका इस्तेमाल अंधे और गूंगे लोगों के इलाज में किया जाता है. 

इन्हें भी पढ़े 

आउटपुट डिवाइस की महत्वपूर्णता (Importance of Output Device in Hindi)

किसी कंप्यूटर सिस्टम में आउटपुट डिवाइस बहुत ही महत्वपूर्ण होते हैं. यह परिणामों को प्रदर्शित करते हैं. बिना आउटपुट डिवाइस के हम कंप्यूटर से कोई भी परिणाम प्राप्त नहीं कर सकते हैं. 

आउटपुट डिवाइस के द्वारा ही हम Video देख सकते हैं, Music सुन सकते हैं, Display में किसी Text को पढ़ सकते हैं और किस भी Document का प्रिंटआउट निकाल सकते हैं. 

आउटपुट डिवाइस कंप्यूटर को दिए जाने वाले निर्देशों के परिणाम को हार्ड कॉपी और सॉफ्ट कॉपी में बदल देते हैं. Computer के लिए जितना महत्वपूर्ण Input Device है उनता ही महत्वपूर्ण Output Device भी.

FAQ For Computer Output Device in Hindi 

हार्ड कॉपी और सॉफ्ट कॉपी क्या है?

Hard Copy उसे कहते हैं जिसका Physical Form होता है और हम इसे छु सकते हैं. जैसे किसी Document का प्रिंटआउट.
Soft Copy उसे कहते हैं जिसका कोई Physical Form नहीं होता है हम इसे छु नहीं सकते हैं. इसे किसी Software के माध्यम से Open किया जाता है. जैसे Monitor में Display होने वाली चीजें.

कंप्यूटर में आउटपुट डिवाइस क्या है?

कंप्यूटर से इनपुट से निर्देशों को प्राप्त करता है और फिर उसे प्रोसेस करके निर्देशों का परिणाम आउटपुट डिवाइस में दिखाता है.

हार्ड कॉपी डिवाइस कौन से हैं?

प्रिंटर और प्लॉटर हार्ड कॉपी डिवाइस हैं.

आउटपुट यंत्र को हिंदी में क्या कहते हैं?

आउटपुट यंत्र को हिंदी में निर्गम यंत्र कहते हैं.

स्क्रीन फिंगरप्रिंट कौन सा डिवाइस है इनपुट या आउटपुट?

स्क्रीन फिंगरप्रिंट इनपुट डिवाइस है.

डिवाइस कितने प्रकार की होती है?

कंप्यूटर में सभी प्रकार के डिवाइस को दो भागों में बांटा गया है इनपुट और आउटपुट डिवाइस में.

हमने क्या सीखा : Output Device in Hindi 

इस लेख में हमने आपको Computer Output Device Kya Hai और What is Output Device In Hindi के बारे में बताया. तथा Output Device कैसे काम करता है और यह एक Computer में क्यों महत्वपूर्ण है इन सभी के बारे में जानकारी आपके साथ साझा की. 

इस लेख को पूरा पढने के बाद आप ऐसे Computer Output Device से परिचित होंगे जिसे आपने देखा तो होगा पर आप नाम नहीं जानते थे. अगर इनमे से कोई ऐसा आउटपुट डिवाइस है तो कमेन्ट बॉक्स में बताएं. 

Ranjeet Singh
Ranjeet Singh

नमस्कार ! मेरा नाम रणजीत सिंह है और मुझे इन्टरनेट पर लोगो की मदद करने में रूचि है. साथ ही Techshole.com का Fownder हु. इस Best Hindi Blog पर Blogging और Earn Money Online इत्यादि इन्टरनेट से जुडी जानकारी हिंदी में शेयर करता हु! हमारे ब्लॉग पर आने के लिए धन्यवाद.

Leave a Comment