Swift Code क्या है काम कैसे करता है (स्विफ्ट कोड पता करने का तरीका)

Swift Code Full Form in Hindi: क्या आप जानते हैं Swift Code क्या है, स्विफ्ट कोड काम कैसे करता है, स्विफ्ट कोड कैसे पता करें और स्विफ्ट कोड के क्या फायदे होते हैं. यदि नहीं तो आज का यह ब्लॉग पोस्ट आपके लिए बहुत महत्वपूर्ण होने वाले है क्योंकि इस ब्लॉग पोस्ट में हम स्विफ्ट कोड से सम्बंधित सभी जानकारी को आपके साथ शेयर करने वाले हैं.

स्विफ्ट कोड एक प्रकार का अंतराष्ट्रीय बैंक कोड होता है जिसका उपयोग वैश्विक स्तर पर बैंकों की पहचान के लिए किया जाता है. स्विफ्ट कोड का इस्तेमाल मुख्य रूप से इंटरनेशनल लेनदेन के लिए किया जाता है. यदि आपको विदेशों में पैसा भेजना है या विदेशों से पैसे मंगवाने हैं तो स्विफ्ट कोड की जरुरत होती है.

अगर आप स्विफ्ट कोड के बारे में विस्तृत जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो इस लेख को पूरा अंत तक पढ़िए. तो चलिए आपका अधिक समय ना लेते हुए शुरू करते हैं इस लेख को और जानते हैं स्विफ्ट कोड क्या होता है हिंदी में विस्तार से.

Swift Code Full Form in Hindi

Swift Code का पूरा नाम Society for Worldwide Interbank Financial Telecommunications होता है. जिसका हिंदी अनुवाद “दुनिया भर में इंटरबैंक वित्तीय दूरसंचार के लिए सोसायटी” होता है.

Swift Code क्या है और काम कैसे करता है (स्विफ्ट कोड पता करने का तरीका) Swift Code Full Form In Hindi
  • Swift Code Full Form in English – Society for Worldwide Interbank Financial Telecommunications
  • Swift Code Full Form in Hindi – दुनिया भर में इंटरबैंक वित्तीय दूरसंचार के लिए सोसायटी

स्विफ्ट कोड क्या है (What is Swift Code in Hindi)

Swift Code एक 8 से 11 Character का एक alphanumeric कोड होता है जिसका उपयोग विदेशों में लेन-देन के लिए किया जाता है. आप Swift Code से विदेश में किसी व्यक्ति को पैसे भेज सकते हैं या विदेश से पैसे अपने बैंक अकाउंट में मंगवा सकते हैं.

स्विफ्ट कोड International Transaction को आसान बना देता है. अगर आप ब्लॉग्गिंग करते हैं तो Google AdSense से पैसे अपने बैंक अकाउंट में ट्रान्सफर करने के लिए आपको स्विफ्ट कोड की जरुरत पड़ती है.

स्विफ्ट कोड का इस्तेमाल वित्तीय और गैर वित्तीय संस्थान दोनों करते हैं. International Wire Transfer करने के लिए स्विफ्ट कोड का होना आवश्यक होता है. स्विफ्ट कोड को The International Organization for Standardization (ISO) के द्वारा जारी किया जाता है. स्विफ्ट कोड को कई अन्य नामों से भी जाना जाता है जैसे कि ISO 9362, Swift BIC (Bank Identifier Code) और Swift ID.

कुल मिलाकर कहें तो स्विफ्ट कोड ISO के द्वारा जारी किया जाने वाला एक ऐसा कोड होता है जिसका इस्तेमाल अंतराष्ट्रीय लेन – देन के लिए किया जाता है.

स्विफ्ट कोड की संरचना (Swift Code Structure in Hindi)

Swift Code आमतौर पर 8 से 11 Character तक हो सकते हैं. स्विफ्ट कोड में इस्तेमाल होने वाले हर एक Character का कुछ ना कुछ मतलब होता है. यहाँ हम आपको स्विफ्ट कोड की पूरी बनावट को समझायेंगे.

  • स्विफ्ट कोड का उदाहरण – BBBBUS3M489

Bank Code – स्विफ्ट कोड में इस्तेमाल होने वाले पहले चार डिजिट बैंक के नाम को दर्शाते हैं. सामान्यतः यह डिजिटल बैंक का नाम Short form में दर्शाते हैं.

Country Code – इसके बाद के दो अक्षर Country के नाम को दर्शाते हैं. इस दो अक्षरों से यह पता चलता है कि बैंक किस देश में स्थित है. जैसे ऊपर उदाहरण में US है इसका मतलब यह बैंक अमेरिका में स्थित है.

Location Code – Country Code के बाद के दो शब्द बैंक के लोकेशन को दर्शाते हैं. यह Number (0-9) या Letter (A-Z) के फॉर्म में हो सकते हैं. इससे बैंक के Head Office के बारे में जानकारी मिलती है.

Branch Code – स्विफ्ट कोड में अंतिम तीन डिजिट नंबर के रूप में होते हैं यह बैंक के ब्रांच के बारे में बताते हैं.

  • BBBB – बैंक का नाम
  • US – Country का नाम
  • 3M – बैंक की लोकेशन या Head Office
  • 489 – बैंक के ब्रांच का नाम

स्विफ्ट कोड का इतिहास (History of Swift Code in Hindi)

Swift नेटवर्क की स्थापना वर्ष 1970 के समय हुई. इसकी स्थापना के पीछे का मुख्य उद्देश्य था कि अंतराष्ट्रीय स्तर पर वित्तीय प्रणाली के लिए एक तेज और सुरक्षित नेटवर्क प्रदान करना. लेकिन स्विफ्ट नेटवर्क बनाने के बाद इसके माध्यम से मैसेज को भेजने में करीब 7 सालों का समय लग गया. वर्ष 1977 में पहली बार स्विफ्ट नेटवर्क से मैसेज को भेजा गया.

1979 तक स्विफ्ट नेटवर्क को केवल 15 देशों के 239 बैंकों ने अपनाया था, लेकिन इसकी लोकप्रियता और फायदे को देखकर महज 4 सालों के अन्दर यानि 1983 में स्विफ्ट नेटवर्क का इस्तेमाल करने वाले देशों की संख्या 15 से बढ़कर 79 हो गयी और इसमें कुल बैंकों की संख्या 1000 पहुँच गयी थी.

साल 2009 में स्विफ्ट नेटवर्क पूरी दुनिया में फ़ैल गया और दुनिया के सभी देशों ने इस प्रणाली को अपनाया. आज के समय में स्विफ्ट नेटवर्क में दुनियाभर के 11000 से भी अधिक सदस्य बैंक है और प्रतिदिन स्विफ्ट नेटवर्क पर 32 मिलियन मैसेज का आदान – प्रदान होता है.

स्विफ्ट कोड काम कैसे करता है

स्विफ्ट कोड की कार्यप्रणाली IFSC कोड के समान ही रहती है जिस प्रकार आप देश के अन्दर IFSC कोड से पैसों की लेनदेन कर सकते हैं उसी प्रकार इंटरनेशनल स्तर पर पैसों की लेनदेन के लिए स्विफ्ट कोड की जरुरत पड़ती है.

जब आप अपने किसी परिजन जो कि विदेश में रहता है और उसके पास विदेशी बैंक में खाता है, को पैसे भेजना चाहते हैं तो आपको खाताधारक का नाम, बैंक का नाम और अकाउंट नंबर के साथ Swift Code की जरुरत पड़ेगी. Swift कोड में एक बैंक के बारे में हर वह जानकारी होती है जो Transaction के लिए आवश्यक होता है, जैसे कि बैंक किस देश में है, कौन सा बैंक है, बैंक की लोकेशन और बैंक की ब्रांच.

जब आप अपने परिजन को पैसे ट्रान्सफर कर देते हैं तो आपके परिजन के बैंक को पैसे ट्रान्सफर का एक मैसेज जाता है. जब वह बैंक मैसेज को प्राप्त करता है तो उसके बाद Confirmation मैसेज आपके बैंक को देता है कि पैसे प्राप्त कर लिए गए हैं और फिर वह पैसों को आपके परिजन के बैंक अकाउंट में ट्रान्सफर कर देता है.

स्विफ्ट कोड सरंचना

स्विफ्ट कोड पता कैसे करें (How to Find Swift Code in Hindi)

किसी भी भारतीय बैंक का Swift Code पता करने का तरीका निम्न है.

ऑनलाइन आपको अनेक सारी वेबसाइटें मिल जायेंगी जहाँ से आप किसी भी बैंक का Swift Code पता कर सकते हैं. अगर आप गूगल में Swift Code Search लिखकर सर्च करेंगे तो आपको ढेर सारी वेबसाइट मिल जायेंगी. इसी प्रकार से एक वेबसाइट है bank.codes जिसके द्वारा Swift कोड Find करना हम आपको इस आर्टिकल में बताएँगे.

  • सबसे पहले आप https://bank.codes/swift-code-search/ वेबसाइट को ओपन कर लीजिये. वेबसाइट को ओपन करते ही आपके सामने नीचे इमेज के अनुरूप इंटरफ़ेस ओपन हो जायेगा.
  • Country में उस Country को सेलेक्ट कर लीजिये जहाँ के बैंक का आप Swift कोड Check करना चाहते हैं.
  • Bank वाले कॉलम में आप जिस बैंक का Swift कोड Check करना चाहते हैं उसे सेलेक्ट करें.
  • City वाले बॉक्स में आप अपने शहर का नाम सेलेक्ट कर लीजिये जहाँ बैंक की ब्रांच है.
  • इसके बाद सबसे अंतिम Box में आपको अपने बैंक का Swift Code मिल जायेगा.

अगर आपके शहर में बैंक की एक से अधिक ब्रांच हैं तो Swift Code वाले बॉक्स में आपको सभी बैंक की Swift Code Show होगी, आप इनको सेलेक्ट करके Check कर सकते हैं कि आपके ब्रांच की Swift कोड क्या है. जैसे ही आप किसी एक स्विफ्ट कोड को सेलेक्ट करेंगे तो नीचे आपको उसकी पूरी Detail मिल जायेगी.

इसके अलावा आप ifscswiftcodes.com वेबसाइट से भी स्विफ्ट कोड का पता कर सकते हैं.

ब्रांच में स्विफ्ट कोड ना होने पर क्या करें?

बैंक की हर ब्रांच में स्विफ्ट कोड नहीं होता है. अगर आपके ब्रांच में भी स्विफ्ट कोड नहीं है तो आप अपने शहर के आस – पास किसी नजदीकी ब्रांच का स्विफ्ट कोड इस्तेमाल कर सकते हैं. यदि आपके शहर में भी किसी ब्रांच का स्विफ्ट कोड नहीं है तो आप अपने राज्य के किसी भी ब्रांच का स्विफ्ट कोड इस्तेमाल कर सकते हैं. आपको एक बात का ध्यान देना है स्विफ्ट कोड के लिए ब्रांच अलग – अलग हो सकती है लेकिन बैंक एक ही होना चाहिए.

स्विफ्ट कोड के फायदे (Advantage of Swift Code in Hindi)

स्विफ्ट कोड के अनेक सारे फायदे होते हैं, इसके कुछ फायदे निम्नलिखित हैं –

  • Swift कोड के जरिये अंतराष्ट्रीय स्थर पर बैंकिंग सेवाओं का लाभ उठा सकते हैं.
  • आप स्विफ्ट कोड से विदेशों से पैसे मंगवा सकते हैं और पैसे भेज सकते हैं.
  • स्विफ्ट कोड से बैंक वैश्विक स्तर पर दुसरे बैंकों के साथ संदेशों का आदान – प्रदान कर सकते हैं.
  • जो लोग विदेशी कंपनियों में काम करते हैं वे स्विफ्ट कोड के द्वारा भी अपनी सैलरी प्राप्त करते हैं.
  • Blogger, Youtuber को Google AdSense की पेमेंट लेने में स्विफ्ट कोड की जरुरत पड़ती है.
  • जो लोग विदेशों से समान Import करते हैं वे स्विफ्ट कोड से पेमेंट भेज सकते हैं.

Swift System का इस्तेमाल कौन कर सकता है

वित्तीय और गैर वित्तीय संस्थान सभी स्विफ्ट सिस्टम का इस्तेमाल करके अंतराष्ट्रीय स्तर पर पैसों की लेनदेन कर सकते हैं. स्विफ्ट सिस्टम का इस्तेमाल करने वाले सभी संस्थाओं की सूची निम्नलिखित है

  • Banks
  • Brokerage Institutes and Trading Houses
  • Exchanges
  • Securities Dealers
  • Asset Management Companies
  • Clearing Houses
  • Depositories
  • Corporate Business Houses
  • Treasury Market Participants and Service Providers
  • Foreign Exchange and Money Brokers.

Swift Code और IFSC कोड में अंतर

कई लोग इस भ्रम में रहते हैं कि Swift Code और IFSC कोड समान ही हैं, लेकिन यह दोनों एक दुसरे से भिन्न हैं. हमने इस दोनों कोड के बीच अंतर को नीचे टेबल में आपको स्पष्ट रूप से बताया है जिससे कि आपको किसी प्रकार की Confusion ना रहे.

स्विफ्ट कोड (Swift Code)आईएफएससी (IFSC Code)
Swift Code का पूरा नाम Society for Worldwide Interbank Financial Telecommunications है.IFSC का पूरा नाम Indian Financial System Code है.
Swift कोड का इस्तेमाल इंटरनेशनल Transaction के लिए किया जाता है.IFSC कोड का इस्तेमाल भारत के अन्दर पैसों की लेन देन के लिए किया जाता है.
बैंक के सभी ब्रांचों का Swift कोड नहीं होता है.बैंक के सभी ब्रांचों का IFSC कोड होता है.
स्विफ्ट कोड का इस्तेमाल दुनिया के 200 देश करते हैंIFSC कोड का इस्तेमाल केवल भारत में किया जाता है.
Difference Between Swift Code and IFSC Code In Hindi

FAQ: Swift Code In Hindi

स्विफ्ट का फुल फॉर्म क्या है?

Swift का फुल फॉर्म Society for Worldwide Interbank Financial Telecommunications होता है.

स्विफ्ट कोड का उपयोग कहाँ होता है?

स्विफ्ट कोड का इस्तेमाल International Transaction के लिए किया जाता है. आप इस कोड के द्वारा विदेशों में पैसे भेज सकते हैं या फिर विदेशों से पैसे अपने बैंक अकाउंट में मंगवा सकते हैं.

क्या है स्विफ्ट ट्रान्सफर को ट्रैक कर सकते हैं?

जी नहीं, आप स्विफ्ट कोड के जरिये किये गए लेनदेन को ट्रैक नहीं कर सकते हैं. यदि आपको स्विफ्ट ट्रान्सफर से जुडी कोई जानकारी चाहिए तो अप सम्बंधित बैंक से संपर्क कर सकते हैं.

स्विफ्ट कोड कैसे पता करें?

आप ऑनलाइन Swift Code Search वेबसाइटों के द्वारा आसानी से किसी भी बैंक के ब्रांच का स्विफ्ट कोड पता कर सकते हैं.

क्या बैंक की हर एक ब्रांच का स्विफ्ट कोड होता है?

जी नहीं बैंक के हर एक ब्रांच का स्विफ्ट कोड नहीं होता है.

स्विफ्ट कोड में कितने डिजिट होते हैं?

स्विफ्ट कोड 11 डिजिट का होता है जो कि alphanumeric फॉर्म में रहते हैं.

इन्हें भी पढ़े

निष्कर्ष: स्विफ्ट कोड क्या है हिंदी में

तो दोस्तों, इस लेख को पढने के बाद आप Swift Code क्या है, Swift कोड काम कैसे करता है और Swift Code पता कैसे करें के बारे में समझ गए होंगे. आप भी अपने ब्रांच का स्विफ्ट कोड पता करके International Transaction कर सकते हैं.

इस लेख में इतना ही उम्मीद करते हैं आपको यह पसंद आया होगा. इस लेख को सोशल मीडिया पर अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें ताकि स्विफ्ट कोड के बारे में यह बहुमूल्य जानकारी प्रत्येक व्यक्ति तक पहुंचें.

नमस्कार ! मेरा नाम रणजीत सिंह है और इस Best Hindi Blog का संस्थापक हूँ. मुझे ब्लॉग्गिंग, एसईओ और डिजिटल मार्केटिंग जैसे विषयों पर गहरी नॉलेज है! हमारे ब्लॉग पर आने के लिए धन्यवाद.

Leave a Comment