सिस्टम सॉफ्टवेयर क्या है इसके प्रकार, परिभाषा, कार्य (System Software in Hindi)

सिस्टम सॉफ्टवेयर क्या है इसके प्रकार, परिभाषा, कार्य (System Software in Hindi)

System Software Kya Hai In Hindi: जैसा कि आप जानते ही होंगे कंप्यूटर हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर का एक संयोजन होता है ये दोनों आपस में मिलकर ही एक कंप्यूटर सिस्टम का निर्माण करते हैं. कंप्यूटर में सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर भी अनेक प्रकार के होते हैं जिनके बारे में हम आपको अपने पिछले लेखों में बता चुके हैं.

आज के इस लेख में माध्यम से हम आपको कंप्यूटर के सबसे महत्वपूर्ण सॉफ्टवेयर System Software के बारे में बताने वाले हैं. आपमें से शायद कुछ लोगों ने पहले इसका नाम भी सुना होगा पर क्या आप जानते हैं System Software क्या है इन हिंदी, सिस्टम सॉफ्टवेयर कितने प्रकार के होते हैं और सिस्टम सॉफ्टवेयर के क्या काम हैं.

अगर आप सिस्टम सॉफ्टवेयर के बारे में ऊपर पूछी गयी चीजों के बारे में जानकारी नहीं है तो आज का यह लेख आपके लिए बहुत Important साबित होने वाला है. इस लेख में हमने आपको सिस्टम सॉफ्टवेयर किसे कहते हैं के बारे में पूरी जानकारी दी है.

कंप्यूटर में हार्डवेयर और एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर को मैनेज करने का कार्य सिस्टम सॉफ्टवेयर का होता है. Operating System (OS) सिस्टम सॉफ्टवेयर का एक बढ़िया उदाहरण है. ऑपरेटिंग सिस्टम कंप्यूटर को संचालित करने के साथ – साथ कंप्यूटर के सभी Program को Manage भी करता है.

बहुत सारे लोग ऑपरेटिंग सिस्टम को System Software समझते हैं जो कि गलत भी नहीं है लेकिन ऑपरेटिंग सिस्टम System Software का एक प्रकार के इसके अलावा कंप्यूटर में अनेक सारे System Software होते हैं जो कंप्यूटर के Application को Manage करने का कार्य करते हैं जिनके बारे में हम लेख में जानेंगे.

तो चलिए आपका ज्यादा समय न लेते हुए शुरू करते हैं इस लेख को और जानते हैं System Software क्या होता है समझाइए.

सिस्टम सॉफ्टवेयर क्या है (What is System Software in Hindi)

सिस्टम सॉफ्टवेयर (System Software) ऐसे कंप्यूटर प्रोग्राम को कहा जाता है जो कंप्यूटर के हार्डवेयर को मैनेज करते हैं और एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर को संचालित करते हैं. सिस्टम सॉफ्टवेयर की मदद से ही कंप्यूटर काम करने योग्य बन पाता है. ये बेजान हार्डवेयर में जान डालते हैं.

System Software के कारण ही कंप्यूटर अपना कार्य कर पाता है, अगर सिस्टम सॉफ्टवेयर नहीं होते हैं कंप्यूटर पर किसी भी कार्य को करना नामुमकिन था. कंप्यूटर के On होने तथा उसमें काम करने से लेकर Off होने तक सभी को सिस्टम सॉफ्टवेयर नियंत्रित करते हैं. कंप्यूटर को मैनेज करने के साथ ही System Software कंप्यूटर और यूजर के बीच में Interface की तरह काम करते हैं.

कुछ सिस्टम सॉफ्टवेयर को यूजर सीधे उपयोग कर सकता है लेकिन कुछ सिस्टम सॉफ्टवेयर Background में काम करते हैं. सिस्टम सॉफ्टवेयर के मदद से ही यूजर हार्डवेयर से Interact कर सकता है.

सिस्टम सॉफ्टवेयर की परिभाषा (Definition of System Software in Hindi)

सिस्टम सॉफ्टवेयर ऐसा कंप्यूटर प्रोग्राम होता है जो कंप्यूटर में हार्डवेयर और एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर को Control करता है.

सिस्टम सॉफ्टवेयर के प्रकार (Types of System Software in Hindi)

अनेक प्रकार के सिस्टम सॉफ्टवेयर होते हैं जिनके बारे में हमने नीचे आपको बताया है  –

#1 – Operating System (प्रचालन तंत्र)

ऑपरेटिंग सिस्टम एक ऐसा सिस्टम सॉफ्टवेयर होता है जो कंप्यूटर में सभी हार्डवेयर डिवाइस और सॉफ्टवेयर को संचालित करने का काम करता है. कंप्यूटर और यूजर के बीच में Interface की तरह कार्य करता है. जब भी कंप्यूटर को On किया जाता है तो सबसे पहले लोड होने वाला प्रोग्राम ऑपरेटिंग सिस्टम ही होता है. कंप्यूटर में चलने वाले सभी Operation को OS ही मैनेज करता है इसलिए इसे Programs of Program भी कहते हैं.

कुछ ऑपरेटिंग सिस्टम एंड्राइड, विंडोज, लिनक्स, mac IOS आदि हैं.

#2 – Device Driver (डिवाइस ड्राइवर)

जब भी हम कंप्यूटर को कोई अन्य डिवाइस को Connect करते हैं तो उसके लिए कंप्यूटर में Driver इनस्टॉल होना जरुरी है जैसे माउस, कीबोर्ड सभी के लिए ड्राइवर इनस्टॉल किये जाते हैं.

Device Driver एक प्रकार के सिस्टम सॉफ्टवेयर हैं जिसकी मदद से कंप्यूटर डिवाइस और कंप्यूटर से बाहर से लगाने वाले उपकरणों को कंप्यूटर से Communicate करने योग्य बनाया जाता है. Driver की मदद से ही कंप्यूटर से जुड़े सभी Component और External Device अपना कार्य सही ढंग से कर पाते हैं.

ऑपरेटिंग सिस्टम कंप्यूटर डिवाइस को निर्देश देता है अगर डिवाइस ड्राइवर नहीं होंगे तो OS किसी भी डिवाइस को कुछ भी निर्देश दे देगा जिससे यूजर कंप्यूटर पर कार्य ठीक ढंग से नहीं कर पायेगा.

कुल मिलाकर कहें तो डिवाइस ड्राइवर के द्वारा कंप्यूटर पहचान पाता है कि कौन सा डिवाइस कंप्यूटर से Connect हुआ है और उसका क्या कार्य है.

#3 – Translator (अनुवादक)

कंप्यूटर केवल मशीनी भाषा (Machine Language) को ही समझ पाते हैं इसलिए Translator का कंप्यूटर में कार्य होता है कि वह High Level Language को Machine Language में Translate करे, क्योंकि कंप्यूटर केवल Machine Language को ही समझ पाता है.

Translator भी तीन प्रकार के होते हैं जिन्हें निर्माता कंपनी के द्वारा डिजाईन किया जाता है –

  • Compiler – कम्पाइलर  ऐसे कंप्यूटर Program होते हैं जो High Level Programming Language का ट्रांसलेशन सीधे Machine Language में कर देते हैं.
  • Assembler – Assembler भी एक प्रकार की Translator Software होता है जो कि Assembly Language को Binary Language (0, 1) में बदलता है.
  • Interpreter – Interpreter भी Compiler की तरह High Level Language का अनुवाद Machine Language में करता है. लेकिन Interpreter Line by line किसी Program को Machine Language में Translate करता है.

#4 – Firmware (फर्मवेयर)

Firmware एक Operational Software होता है जो ROM या EPROM मेमोरी में embedded किया जाता है. यह सभी हार्डवेयर के द्वारा होने वाली सभी Activity को Control करता है. Firmware यह Information प्रदान करता है कि कोई हार्डवेयर डिवाइस के साथ किस प्रकार से Interact करेगा.

#5 – Utility Software (उपयोगिता सॉफ्टवेयर)

Utility Software वे सॉफ्टवेयर होते हैं जो यूजर और एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर के बीच काम करते हैं. Utility Software कंप्यूटर को सुरक्षा प्रदान करते हैं. ये कंप्यूटर को Optimize, Maintain और Configure करने का कार्य करते हैं जैसे एंटी वायरस, Security, Backup, Network Programming आदि. 

सिस्टम सॉफ्टवेयर के कार्य (Function of System Software in Hindi)

सिस्टम सॉफ्टवेयर का मुख्य कार्य कंप्यूटर में हार्डवेयर और एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर को Manage करने का होता है. सिस्टम सॉफ्टवेयर ही कंप्यूटर हार्डवेयर को कंप्यूटर में काम करने योग्य बनाता है. अलग – अलग सिस्टम सॉफ्टवेयर के अलग – अलग कार्य होते हैं जैसे कि –

  • ऑपरेटिंग सिस्टम कंप्यूटर के हार्डवेयर और अन्य सॉफ्टवेयर को मैनेज करता है.
  • डिवाइस ड्राइवर किसी भी कंप्यूटर Component और External Device की कंप्यूटर के साथ पहचान करवाता है.
  • Translator कंप्यूटर में High Level programing language का Translate Machine Language में करते हैं.
  • Utility Software कंप्यूटर को Optimize, Maintain और Configure करते हैं.

सिस्टम सॉफ्टवेयर की विशेषता (Feature of System Software in Hindi)

सिस्टम सॉफ्टवेयर की प्रमुख विशेषताएं निम्न हैं –

  • System Software को Low Level Language में लिखा जाता है जिसे केवल मशीन ही समझ सकते हैं.
  • सिस्टम सॉफ्टवेयर में manipulation करना मुश्किल होता है.
  • सिस्टम सॉफ्टवेयर को डिजाईन करना भी एक मुश्किल कार्य है.
  • सिस्टम सॉफ्टवेयर Speed में बहुत फ़ास्ट होते हैं.
  • सिस्टम सॉफ्टवेयर आकार में भी छोटे होते हैं.
  • सिस्टम सॉफ्टवेयर कंप्यूटर के अभिन्न अंग हैं जो कंप्यूटर को नियंत्रित और संचालित करते हैं.

सिस्टम सॉफ्टवेयर के उदाहरण (Example of System Software in Hindi)

सिस्टम सॉफ्टवेयर के कुछ उदहारण (एग्जांपल ऑफ सिस्टम सॉफ्टवेयर) निम्न हैं –

  • Operating System (ऑपरेटिंग सिस्टम)
  • Drivers (ड्राइवर्स)
  • BIOS (बायोस)
  • Programming Language Translator (प्रोग्रामिंग लैंग्वेज ट्रांसलेटर)
  • Anti – Virus (एंटीवायरस)
  • Disk Repair (डिस्क रिपेयर)

इन्हें भी पढ़े 

 FAQ For System Software in Hindi

सिस्टम सॉफ्टवेयर का मुख्य कार्य क्या है?

सिस्टम सॉफ्टवेयर का मुख्य कार्य कंप्यूटर में हार्डवेयर और एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर को नियंत्रित करने का होता है. सिस्टम सॉफ्टवेयर की मदद से यूजर हार्डवेयर के द्वारा कंप्यूटर में कार्य कर सकता है और एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर से Interact  कर पाता है.

सिस्टम सॉफ्टवेयर कौन – कौन से हैं?

सिस्टम सॉफ्टवेयर Operating System, Drivers, Firmware, Utility Software, Translator आदि हैं.

सिस्टम सॉफ्टवेयर से आप क्या समझते हैं?

सिस्टम सॉफ्टवेयर कंप्यूटर में ऐसे सॉफ्टवेयर होते हैं जो पुरे कंप्यूटर सिस्टम को नियंत्रित करते हैं. सिस्टम सॉफ्टवेयर की मदद से ही कंप्यूटर काम करने योग्य बन पाता है.

हमने क्या सीखा: सिस्टम सॉफ्टवेयर क्या है हिंदी में

इस लेख को पढने के बाद आप लोग समझ गए होंगे कि System Software Kya Hai और कंप्यूटर में इसकी Importance क्या है. इस लेख से आपने सीखा कि कंप्यूटर सिस्टम सॉफ्टवेयर कितने प्रकार के होते हैं उनके क्या कार्य हैं और सिस्टम सॉफ्टवेयर की विशेषताएं क्या है. उम्मीद करते हैं आपको लेख समझ में आया होगा, इसे अपने दोस्तों के साथ भी सोशल मीडिया पर शेयर करें.

Editorial Staff
Editorial Staff

Techshole इंडिया की Best हिंदी ब्लॉग में से एक बनने की दिशा में अग्रसर है. यहाँ इस ब्लॉग पर हम Blogging, Computer, Tech, इंटरनेट और पैसे कमाए से सम्बन्धित लेख साझा करते है.

Leave a Comment