ट्विस्टेड पेअर केबल क्या है और इसके प्रकार (Twisted Pair Cable In Hindi)

Twisted Pair Cable In Hindi: एक नेटवर्क में अलग – अलग प्रकार की केबल का इस्तेमाल होता है जिनकी मदद से इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस को आपस में कनेक्ट किया जाता है जिससे कि डेटा का आदान – प्रदान हो सके. जैसे Coaxial केबल, फाइबर ऑप्टिक्स केबल, Twisted Pair Cable.

Coaxial केबल और फाइबर ऑप्टिक्स केबल के बारे में हम आपको पहले ही बता चुके हैं, आज के इस लेख के माध्यम से हम जानेंगे कि Twisted Pair Cable क्या है और यह कितने प्रकार की होती है.

ट्विस्टेड पेअर केबल क्या है और इसके प्रकार (Twisted Pair Cable In Hindi)

Twisted Pair Cable छोटे नेटवर्क जैसे LAN के लिए बहुत महत्वपूर्ण होती है क्योंकि इनमें डाटा ट्रान्सफर करने की स्पीड बहुत अधिक होती है. Twisted Pair Cable के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करने के लिए आपको यह लेख पूरा अंत तक पढना होगा.

तो चलिए सबसे पहले शुरू करते हैं आज के इस लेख को – Twisted Pair Cable क्या है इन हिंदी.

ट्विस्टेड पेअर केबल क्या हैं (Twisted Pair Cable In Hindi)

Twisted Pair Cable (व्यावर्तित युग्म केबल) ऐसी केबल होती है जिसमें दो वायर या तार आपस में एक – दुसरे से लिपटे (Twisted) रहते हैं. इस प्रकार के केबल में कॉपर वायर का इस्तेमाल किया जाता है, क्योंकि कॉपर विधुत का अच्छा सुचालक है. इन कॉपर के तारों के बाहर से प्लास्टिक की कोटिंग की जाती है. तारों के आपस में twisted होने के कारण ये डेटा ट्रांसमिट बहुत तेजी के साथ करते हैं.

अनेक प्रकार के इलेक्ट्रॉनिक उपकरण में बीच संचार स्थापित करने के लिए Twisted Pair Cable का इस्तेमाल किया जाता है. Twisted Pair Cable का अधिकतर इस्तेमाल LAN को बनाने में किया जाता है.

Twisted Pair Cable
Twisted Pair Cable

ट्विस्टेड पेअर केबल के प्रकार (Twisted Pair Cable)

Twisted Pair Cable मुख्य रूप से दो प्रकार की होती है –

  • Unshielded Twisted Pair (UTP)
  • Shielded Twisted  Pair (STP)

1 – Unshielded Twisted Pair (UTP)

Unshielded Twisted Pair में 4 Pair तार होती है और इसमें सभी Pair को सुरक्षित रखने के लिए Shield का इस्तेमाल नहीं किया जाता है. इसका उपयोग अधिकतर टेलीफोन वायर तथा ईथरनेट नेटवर्क में किया जाता है. ज्यादातर मामले में UTP केबल को RJ – 45 कनेक्टर के साथ इनस्टॉल किया जाता है.

पहले UTP को Slow डेटा ट्रांसमिट करने का माध्यम माना जाता था, लेकिन समय के साथ ये और भी upgrade होते गए और आज UTP को डेटा ट्रांसमिट करने के लिए एक फ़ास्ट माध्यम माना जाता है.

Unshielded Twisted Pair (UTP) के प्रकार  

UTP केबल को अलग – अलग Category (श्रेणियों) में बिभाजित किया गया है,

Category 1 – इस प्रकार के केबल का इस्तेमाल नेटवर्किंग में नहीं किया जाता है, इनका उपयोग टेलीफोन लाइन में किया जाता है, क्योंकि इन केबल को voice transmit करने के लिए बनाया गया है.

Category 2 – इस प्रकार के केबल का इस्तेमाल नेटवर्किंग में भी किया जाता है, लेकिन इनकी speed बहुत Slow होती है. ये केवल 4 megabits per second (Mbps) की स्पीड से डेटा को ट्रांसमिट कर सकते हैं.

Category 3 – इस केटेगरी के UTP 10 Mbps की स्पीड से डेटा ट्रांसमिट करने में सक्षम हैं. इनकी आवर्ति 16 MHz होती है.  

Category 4 – श्रेणी 4 के केबल 16 Mbps की स्पीड से डेटा ट्रांसमिट कर सकते हैं. इनकी आवर्ति 32 MHz होती है.

Category 5 – श्रेणी 5 के केबल 100 Mbps की speed से डेटा ट्रांसमिट करने में सक्षम हैं. इनकी आवर्ति 100 MHz तक होती है.

Category 5e – इस प्रकार के UTP 1000 Mbps की स्पीड से डेटा ट्रान्सफर कर सकते हैं. गीगाबिट ईथरनेट के लिए इनका उपयोग किया जाता है.

Category 6 – श्रेणी 6 के UTP केबल 1000 Mbps की स्पीड से डेटा ट्रांसमिट करने के सक्षम हैं. इनकी आवर्ति 250 MHz होती है.

Category 7 – श्रेणी 7 के UTP केबल 100 मीटर तक 10 Gbps की स्पीड से डेटा ट्रांसमिट करने में सक्षम हैं. ये केबल 600 मेगाहर्ट्ज़ की सिग्नल आवर्ति पर संचालित होते हैं.इन्हें गीगाबिट ईथरनेट और 10G नेटवर्क के लिए बनाया गया है.

Unshielded Twisted Pair (UTP) के फायदे

  • UTP केबल नेटवर्क बनाने के लिए उपलब्ध केबल में से सबसे सस्ता होता है.
  • High Speed से डेटा ट्रांसमिट करने में सक्षम होता है.
  • LAN नेटवर्क में इनफार्मेशन के आदान – प्रदान के लिए उपयोगी केबल है.
  • UTP केबल को स्थापित करना बहुत ही आसान है.

Unshielded Twisted Pair (UTP) के नुकसान

  • UTP केबल में बाहरी हस्तक्षेप अधिक होता है.
  • इसमें क्रॉसटॉक अधिक होता है.
  • डेटा को सुरक्षित रूप से ब्रॉडकास्ट करने में असमर्थ है.

2 – Shielded Twisted Pair (STP)

Shielded Twisted Pair केबल में भी वायर की 4 जोडी होती है, और प्रत्येक जोड़ी वायर को क्रॉस टॉक से बचाने के लिए इन्हें एक सुरक्षित पतली पन्नी के अन्दर लपेटा जाता है. इन तारों को बाहरी हस्तक्षेप से बचाने के लिए दो twisted कॉपर वायर के ऊपर एक बाहरी धातु का foil रखा जाता है. STP केबल में बाहर से एक अतिरिक्त कोटिंग की जाती है जो कि केबल को विद्युत चुम्बकीय इंटरफ़ेस से बचाती है.

नेटवर्क बनाने के लिए STP केबल का इस्तेमाल सर्वाधिक किया जाता है. क्योंकि ये केबल UTP की तुलना में अधिक सुरक्षा प्रदान करते हैं.

Shielded Twisted Pair (STP) के प्रकार

STP केबल को दो केटेगरी में विभाजित किया जाता है.

5e केटेगरीइस प्रकार के STP केबल में डेटा ट्रांसमिशन की स्पीड 1000 Mbps होती है और यह 350 मेगाहर्ट्ज़ की आवर्ति पर संचालित होता है. 5e STP केबल नेटवर्किंग में डेटा ट्रान्सफर करने और टेलीफोन लाइनों के लिए फायदेमंद हैं.

150 ओम शील्ड केबलइस प्रकार के STP केबल क्रॉसटॉक और बाहरी हस्तक्षेप से सुरक्षित रहते हैं, क्योंकि इनमें बाहर से एक अतिरिक्त कोटिंग होती है. ये अधिकतम 16 मेगाहर्ट्ज़ की आवर्ति पर काम कर सकते हैं.

Shielded Twisted Pair (STP) के फायदे

  • STP केबल में क्रॉसटॉक कम होता है.
  • बाहरी किसी भी हस्तक्षेप से यह सुरक्षित रहते हैं.
  • STP केबल डेटा को सुरक्षित रूप से ट्रांसमिट करने में सक्षम हैं.
  • UTP केबल की तुलना में STP की डेटा ट्रान्सफर की स्पीड अधिक होती है.

Shielded Twisted Pair (STP) के नुकसान

  • UTP की तुलना में STP को इनस्टॉल करना जटिल है.
  • STP केबल की कीमत भी UTP से अधिक होती है.
  • STP केबल वजनी होते हैं.

UTP और STP में अंतर

Unshielded Twisted Pair और Shielded Twisted Pair केबल के बीच अंतर को हमने आपको नीचे सारणी के द्वारा बताया है जिससे आपको समझने में आसानी होगी.

Unshielded Twisted Pair (UTP)Shielded Twisted Pair (STP)
UTP केबल में तारों के केवल twist (मोड़ा) किया जाता है.STP केबल में तारों को मोड़कर उनके ऊपर पन्नी या मेश शील्ड को लपेटा जाता है.
UTP में डेटा ट्रान्सफर की दर Slow होती है.STP में डेटा ट्रान्सफर की दर UTP से बहुत अधिक होती है.
UTP केबल में क्रॉसटॉक और बाहरी हस्तक्षेप अधिक होता है.STP केबल में क्रॉसटॉक और बाहरी हस्तक्षेप नहीं होता है.
UTP केबल डेटा को सुरक्षित रूप से ब्रॉडकास्ट करने में असमर्थ है.STP केबल में डेटा को सुरक्षित रूप से ब्रॉडकास्ट किया जा सकता है.
UTP केबल को इनस्टॉल करना बहुत ही आसान है.STP केबल को इनस्टॉल करने की प्रक्रिया थोड़ी जटिल होती है.
UTP केबल को अधिक Maintenance की जरुरत नहीं होती है.STP केबल में अधिक Maintenance की आवश्यकता होती है.
UTP केबल में शोर (noise) अधिक होता है.STP केबल में noise कम होता है.
Difference Between Unshielded Twisted Pair and Shielded Twisted Pair Cable In Hindi

Twisted Pair Cable से सम्बंधित सामान्य प्रश्न  

ट्विस्टेड पेअर केबल का इस्तेमाल कहाँ किया जाता है?

Local Area Network में उपकरणों को जोड़ने के लिए Twisted Pair Cable का इस्तेमाल सर्वाधिक किया जाता है.

ट्विस्टेड पेअर केबल कितने प्रकार की होती है?

ट्विस्टेड पेअर केबल मुख्य रूप से दो प्रकार की होती है – Unshielded और Shielded Twisted Pair Cable.

ट्विस्टेड पेअर केबल में डेटा ट्रान्सफर की दर कितनी होती है?

ट्विस्टेड पेअर केबल में डेटा ट्रान्सफर करने की अधिकतम स्पीड 10 Gbps तक हो सकती है.

इन्हें भी पढ़े

आपने सीखा: Twisted Pair Cable क्या है हिंदी में

इस लेख के माध्यम से हमने आपको बताया कि Twisted Pair Cable Kya hai In Hindi और यह कितने प्रकार की होती है. हमें पूरी उम्मीद है कि इस लेख से आपको Twisted Pair Cable के बारे में बहुत कुछ जानने को मिला होगा.

इस लेख में इतना ही आशा करते हैं आपको लेख पसंद आया होगा, और अंत में आपसे निवेदन करते हैं कि इस लेख को सोशल मीडिया पर अपने दोस्तों के साथ भी जरुर शेयर करें. धन्यवाद ||

5/5 - (1 vote)

Techshole इंडिया की Best हिंदी ब्लॉग में से एक बनने की दिशा में अग्रसर है. यहाँ इस ब्लॉग पर हम Blogging, Computer, Tech, इंटरनेट और पैसे कमाए से सम्बन्धित लेख साझा करते है.

Leave a Comment