वेब सर्वर क्या है प्रकार (वेब सर्वर और वेब होस्टिंग में अंतर) Web Server in Hindi

Type Of Web Server In Hindi: जब भी आप अपने वेब ब्राउज़र में कोई वेबपेज सर्च करते हैं तो ब्राउज़र सेकंड से पहले आपके सामने उस वेब पेज को लाकर देता है. पर क्या आपके मन में कभी ये ख्याल भी आया कि इन वेबपेजों को ब्राउज़र के पास कौन भेजता है, ये वेब पेज कहाँ स्टोर रहते हैं आदि. तो आपकी जानकारी के लिए बता दें कि यह वेब पेज किसी न किसी वेब सर्वर पर मौजूद होते हैं जो कि आपके अनुरोध करने पर वेब पेज को आपके सामने लाते हैं.

पर क्या आप जानते हैं Web Server क्या है इन हिंदी, वेब ब्राउज़र काम कैसे करता है, वेब ब्राउज़र कितने प्रकार के होते हैं, वेब ब्राउज़र की उपयोगिता क्या है, वेब ब्राउज़र की विशेषता क्या है तथा वेब ब्राउज़र और वेब होस्टिंग में क्या अंतर है. अगर आप इस प्रकार की सभी जानकारी को प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको यह लेख पूरा अंत तक पढना होगा.

difference between web server and web hosting In Hindi

इस लेख में हमने आपको वेब सर्वर की उपरोक्त सारी जानकारी उपलब्ध करवाई है, तो चलिए आपका अधिक समय न लेते हुए शुरू करते हैं आज का यह लेख वेब सर्वर हिंदी में.

वेब सर्वर क्या है (What is Web Server in Hindi)

वेब सर्वर एक ऐसा कंप्यूटर सिस्टम या सॉफ्टवेयर होता है जो कि यूजर के अनुरोधों के अनुसार वेब पेज को यूजर तक पहुंचाता है. वेब सर्वर डेटा को यूजर तक पहुंचाने के लिए HTTP (Hypertext Transfer Protocol) का इस्तेमाल करते हैं.

इंटरनेट पर जितनी भी वेबसाइट मौजूद हैं सभी का डेटा (टेक्स्ट, इमेज, विडियो, ऑडियो, फाइल आदि) किसी न किसी वेब सर्वर में स्टोर रहता है, जब यूजर अपने वेब ब्राउज़र पर किसी Particular URL को सर्च करता है तो यह Request सर्वर के पास चली जाती है, और फिर वेब सर्वर उस URL से सम्बंधित वेबपेज को यूजर के सामने लाता है.

जैसे आप अपने ब्राउज़र में सर्च करते हैं Techshole.com, तो यह Request Techshole.com के वेब सर्वर के पास चली जाती है और फिर हमारा वेब सर्वर आपके सामने हमारी वेबसाइट को दिखा देता है. प्रत्येक वेब सर्वर का अपना एक डोमेन नाम और एक IP एड्रेस होता है जिसके द्वारा उस वेब सर्वर की पहचान की जाती है.

वेब सर्वर को दो भागों में बाँट सकते हैं. एक वह मशीन या कंप्यूटर जिसमें वेबसाइट का डेटा स्टोर रहता है तथा दूसरा भाग वह सॉफ्टवेयर जो यूजर को वेब पेज सर्व करता है. जो कंप्यूटर सिस्टम यूजर तक वेब पेज को पहुंचाता है उसे ही वेब सर्वर कहते हैं.

वेब सर्वर की परिभाषा (Definition of Web Server in Hindi)

वेब सर्वर एक ऐसा कंप्यूटर सिस्टम है जो वेबसाइट के कंटेंट को स्टोर करता है तथा यूजर के अनुरोध करने पर डेटा को यूजर तक पहुंचाता है.

वेब सर्वर काम कैसे करता है (How Does Web Server Work in Hindi)

अगर आपको थोड़ी बहुत कंप्यूटर टर्म या टेक्नोलॉजी की जानकारी है तो वेब सर्वर की कार्यप्रणाली को समझना आपके लिए ज्यादा मुश्किल भरा काम नहीं है. हमने आपको आसान भाषा में वेब सर्वर के कार्य करने के तरीके के बारे में बताया है.

वेब सर्वर
वेब सर्वर

जब आप गूगल पर कोई Query या कीवर्ड सर्च करते हैं तो गूगल सर्च इंजन अपने अल्गोरिथम के आधार पर आपकी Query से Related वेबसाइट की लिस्ट आपके सामने दिखाता है.

जब आप किसी वेबसाइट पर क्लिक करते हैं तो आपका ब्राउज़र उस वेबसाइट के वेब सर्वर से उस वेबपेज की Request करता है और वेब सर्वर वेबपेज को ब्राउज़र के पास वापस भेजता है, और ब्राउज़र वह पेज आपके सामने दिखा देता है.

वेब ब्राउज़र पहले उस वेबसाइट के IP एड्रेस को प्राप्त करता है. IP एड्रेस प्राप्त करने के लिए ब्राउज़र 2 तरीकों का इस्तेमाल करता है, या तो इसे कैश में सर्च करता है या फिर एक से अधिक DNS (Domain Name System) सर्वर से अनुरोध करता है.

IP एड्रेस प्राप्त करने के बाद ब्राउज़र वेब सर्वर से उस वेब पेज की मांग करता है. और यदि वेब पेज उस वेब सर्वर में होगा तो ब्राउज़र आपके सामने वह वेब पेज दिखाता है और यदि वह वेबपेज वेब सर्वर में नहीं होता है तो ब्राउज़र आपको 404 का एरर दिखाता है.

इस प्रकार से एक वेब सर्वर काम करता है. वेब सर्वर का मुख्य कार्य क्लाइंट की Request के अनुसार वेबपेज उसे सर्व करने का होता है.

वेब सर्वर के प्रकार (Types of Web Server in Hindi)

वेब सर्वर मुख्य 4 प्रकार के होते हैं –

  • Apache HTTP Server
  • Internet Information Server
  • NGINX Web Server
  • Light Speed Web Server

चलिए अब इन सब के बारे में एक – एक कर जानते हैं.

1 – अपाचे वेब सर्वर (Apache Web Server)

Apache Web Server को अपाचे सॉफ्टवेयर फाउंडेशन के द्वारा Develop किया गया है. यह पूरी दुनिया में सबसे लोकप्रिय वेब सर्वर में से एक है. अपाचे एक Open Source Software है जिसे आप किसी भी ऑपरेटिंग सिस्टम जैसे Windows, Linux, Mac OS में इनस्टॉल किया जा सकता है. दुनिया की लगभग 60 प्रतिशत से ज्यादा वेब सर्वर मशीन अपाचे सर्वर का इस्तेमाल करती हैं.

2 – इंटरनेट सूचना सर्वर (International Information Server)

International Information Server (IIS) माइक्रोसॉफ्ट का एक प्रोडक्ट है. यह एक High Performing वेब सर्वर है. लेकिन IIS सर्वर अपाचे सर्वर की तरह Open Source नहीं है इसलिए आप अपनी आवश्यकतानुसार बदलाव इसमें नहीं कर सकते हैं. IIS सर्वर सभी ऑपरेटिंग सिस्टम में काम नहीं करता है, यह कुछ ही ऑपरेटिंग सिस्टम जैसे कि Windows को सपोर्ट करता है.

3 – एनजीआईएनएक्स वेब सर्वर (NGINX Web Server)

NGINX भी अपाचे की तरह एक एक Open Source वेब सर्वर है जिसमें कि IMAP/POP3 प्रॉक्सी सर्वर शामिल होते हैं. यह सर्वर अपने हाई परफॉर्मेंस, स्थिरता, सरल कॉन्फ़िगरेशन और कम संसाधन उपयोग करने के लिए लोकप्रिय है. NGINX वेब सर्वर की एक ख़ास बात यह है कि यह Request को हैंडल करने के लिए थ्रेड का इस्तेमाल नहीं करता है. कई सारी होस्टिंग कंपनी NGINX सर्वर का इस्तेमाल करती हैं.

4 – लाइट स्पीड वेब सर्वर (Light Speed Web Server)

Light Speed Web Server अन्य वेब सर्वर की तुलना में अच्छी परफॉरमेंस देता है. यह एक कमर्शियल नेटवर्क सर्वर भी है. अगर आप अपने सर्वर को Light Speed Web Server में अपग्रेड करते हैं तो आपके सर्वर की पर्फोर्मांस बेहतर होती है.

वेब सर्वर की विशेषताएं (Feature of Web Server in Hindi)

वेब सर्वर की कुछ प्रमुख विशेषताएं निम्नलिखित हैं –

  • वेब सर्वर HTTP (Hypertext Transfer Protocol) का इस्तेमाल करते हैं जिसके द्वारा क्लाइंट और सर्वर के बीच संचार स्थापित होता है.
  • वेब सर्वर इंटरनेट पर डेटा सर्फिंग करते समय बड़ी फाइल को अपलोड / डाउनलोड या डेटा को कलेक्ट करने करने के लिए मास्टर को Login की परमिशन भी देता है.
  • वेब सर्वर यूजर को इंटरनेट सर्फिंग करते समय सुरक्षित वातावरण प्रदान करवाता है. वेब सर्वर HTTP के साधारण पोर्ट 80 के स्थान पर HTTPS के Standard Port 443 का इस्तेमाल करता है.
  • वेब सर्वर पर Virtual Hosting के माध्यम से एक साथ कई वेबसाइट को सर्व करना संभव हो पाता है.  

वेब सर्वर की उपयोगिता क्या है (Uses of Web Server in Hindi)

वेब सर्वर के कुछ प्रमुख उपयोग निम्नलिखित हैं –

  • वेब सर्वर इंटरनेट पर मौजूद वेब पेजों को यूजर तक पहुंचाता है.
  • वेब सर्वर वेबसाइट के होस्टिंग को मैनेज करने का काम भी करता है.
  • वेब सर्वर फाइल ट्रान्सफर प्रोटोकॉल को बनाता है, जिससे कि वेबसाइट की फाइल को अपलोड या डाउनलोड किया जा सकता है.
  • वेब पेज अलग – अलग इंटरनेट यूजर के Request को Accept करता है और उनके अनुरोधों के अनुसार जानकारी को उन तक पहुंचाता है.
  • वेबसाइट में आ रही समस्याओं को सुलझाने में वेब सर्वर सहायक है.

वेब सर्वर और वेब होस्टिंग में अंतर

वेब सर्वर और वेब होस्टिंग के बीच अंतर को हमने नीचे सारणी के द्वारा आपको बताया है.

वेब सर्वर (Web Server)वेब होस्टिंग (Web Hosting)
वेब सर्वर एक ऐसा कंप्यूटर सिस्टम है जो कि वेबसाइटों को चलाता है.वेब होस्टिंग मूल रूप से वेबसाइट को होस्ट करने के लिए सर्वर का इस्तेमाल करने की एक प्रोसेस है.
वेब सर्वर का इस्तेमाल वेबसाइटों को होस्ट करने के लिए किया जाता है, इसमें एक या एक से अधिक वेबसाइटों को शामिल किया जा सकता है.वेब होस्टिंग वेबसाइट को इंटरनेट के माध्यम से यूजर के लिए accessible बनाता है. 
वेब सर्वर नेटवर्क में अन्य डिवाइस या प्रोग्राम को सर्विस प्रदान करवाता है.वेब होस्टिंग individuals और organizations को WWW के माध्यम से अपनी वेबसाइट को accessible बनाने की अनुमति देता है.
वेब सर्वर का मुख्य उद्देश्य वेब पेजों को स्टोर करना तथा यूजर को डिलीवर करना है.वेब होस्टिंग का मुख्य उद्देश्य होस्टेड वेबसाइट के सभी वेबपेजों को अपने सर्वर पर रखना, सेटअप करना और तकनीकी समस्याओं को सुलझाना होता है.
वेब सर्वर के प्रकारों में प्रॉक्सी सर्वर, मेल सर्वर, एप्लिकेशन सर्वर आदि शामिल हैंवेब होस्टिंग के प्रकार में शेयर्ड होस्ट, डेडिकेटेड होस्ट, क्लाउड होस्टिंग आदि शामिल हैं
difference between web server and web hosting In Hindi

FAQ: Web Server Kya Hai In Hindi

वेब सर्वर क्या है समझाइये?

वेब सर्वर एक विशेष प्रकार के कंप्यूटर सिस्टम होते हैं जिनमें वेब सर्वर सॉफ्टवेयर को इनस्टॉल कर दिया जाता है, और फिर ये वेब सर्वर उपयोगकर्ता के अनुरोधों के अनुसार वेब पेज को यूजर तक पहुंचाते हैं.

वेब सर्वर के कितने प्रकार हैं?

वेब सर्वर मुख्य रूप से 4 प्रकार के हैं – अपाचे वेब सर्वर, इंटरनेशनल इनफार्मेशन वेब सर्वर, NGINX वेब सर्वर, लाइट वेट वेब सर्वर.

वेब सर्वर का क्या काम काम है?

वेब सर्वर इंटरनेट पर मौजूद वेबसाइटों के डेटा को स्टोर करते हैं और फिर यूजर के अनुरोधों पर डेटा को सर्व करते हैं.

वेबसर्वर और वेबयूजर के बीच Communication कौन create करता है?

वेब ब्राउज़र वेब सर्वर और यूजर के बीच संचार स्थापित करता है.

निष्कर्ष: वेब सर्वर क्या है हिंदी में

आज के इस लेख में हमने आपको Web Server Kya Hai In Hindi के बारे में विस्तृत जानकारी प्रदान की है, इस लेख में हमने आपको वेब सर्वर के प्रकार, वेब सर्वर की उपयोगिता, वेब सर्वर की विशेषता तथा वेब सर्वर और वेब होस्टिंग के बीच अंतर को स्पष्ट रूप से बताया है. अगर आपने इस लेख को ध्यानपूर्वक पढ़ा है तो आपको वेब सर्वर के बारे में सभी उपयोगी जानकारी प्राप्त हुई होगी.

उम्मीद करते हैं आपको हमारे द्वारा लिखा गया यह लेख जरुर पसंद आया होगा. इस लेख को सोशल मीडिया पर अपने दोस्तों के साथ भी जरुर शेयर करें. और इसी प्रकार के ज्ञानवर्धक लेख पढने के लिए हमारे ब्लॉग पर आते रहिये.

5/5 - (1 vote)

Techshole इंडिया की Best हिंदी ब्लॉग में से एक बनने की दिशा में अग्रसर है. यहाँ इस ब्लॉग पर हम Blogging, Computer, Tech, इंटरनेट और पैसे कमाए से सम्बन्धित लेख साझा करते है.

Leave a Comment