पर्सनल लोन क्या है और इसके प्रकार (Personal Loan In Hindi)

Personal Loan Kya Hai In Hindi: – हर व्यक्ति को अपने जीवन में कभी ना कभी वित्तीय समस्याओं का सामना करना पड़ता है और जब भी हम लोगों को पैसों की बहुत आवश्यकता होती है तो हमारे मन में सबसे पहला विचार लोन लेना का ही आता है. लोन से हमारे बहुत सारे रुके काम जल्दी बन जाते हैं और लोन की चुकौती करने के लिए भी अच्छा टाइम मिल जाता है.

जब आप बैंकों या वित्तीय संस्थाओं से लोन लेंते हैं तो आपको विभिन्न प्रकार के लोन विकल्प मिलते हैं जिन्हें आप अपनी आवश्यकता अनुसार ले सकते हैं. इनमें से सबसे सामान्य प्रकार का लोन पर्सनल लोन होता है. पर्सनल लोन ऐसा लोन है जिसका इस्तेमाल आप कही भी कर सकते हैं और इस प्रकार का लोन लेने में आपको अपनी कोई चीज ऋणदाता के पास गिरवी नहीं रखवानी पड़ती है.

पर्सनल लोन क्या है और इसके प्रकार (Personal Loan In Hindi)

आज के इस ब्लॉग पोस्ट में हम आपको पर्सनल लोन क्या है, पर्सनल लोन के लिए कैसे आवेदन करें, पर्सनल लोन के फायदे व नुकसान क्या हैं तथा पर्सनल लोन से जुडी सभी जानकारी को साझा करने वाले हैं. इसलिए अगर आप इंटरनेट पर पर्सनल लोन के बारे में जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो इस लेख को आखिरी तक पढ़ें.

तो चलिए आपका अधिक समय ना लेते हुए शुरू करते हैं आज का यह ब्लॉग पोस्ट और जानते हैं पर्सनल लोन क्या है हिंदी में विस्तार से.

पर्सनल लोन क्या है (What is Personal Loan in Hindi)

अनुक्रम दिखाएँ

Personal Loan जिसे कि हिंदी में व्यक्तिगत ऋण कहा जाता है यह एक प्रकार का असुरक्षित लोन (Unsecured Loan) होता है, मतलब पर्सनल लोन लेने के लिए उधारकर्ता को अपनी कोई सम्पति गिरवी रखवाने की जरुरत नहीं होती है. पर्सनल लोन को कोई भी व्यक्ति अपने निजी खर्चे या मौजूदा वित्तीय स्थिति को सुधारने के उद्देश्य से लेता है.

पर्सनल लोन की सुविधा लगभग सभी बैंक, वित्तीय संस्थान और ऑनलाइन लेंडर प्रदान करवाते हैं. चूँकि पर्सनल लोन एक प्रकार का असुरक्षित लोन होता है इसलिए इसमें ब्याज दरें भी अन्य प्रकार के सुरक्षित लोन से अधिक होती है. अधिकतर ऋणदाता 3 महीने से लेकर 60 महीने के लिए पर्सनल लोन प्रदान करवाते हैं.

होम लोन या कार लोन के विपरीत पर्सनल लोन का इस्तेमाल किसी भी प्रकार के कार्यों के लिए किया जा सकता है, जैसे शादी – विवाह, मेडिकल इमरजेंसी, यात्रा, घर के अन्य काम आदि.

पर्सनल लोन देने का आधार

चूँकि पर्सनल लोन एक Unsecured Loan होता है, इस प्रकार के लोन को देने में बैंक या वित्तीय संस्थाओं को जोखिम रहता है. इसलिए बैंक और वित्तीय संस्थान विभिन्न फैक्टर की जांच करने के बाद ही आवेदक को पर्सनल लोन की सुविधा देते हैं. पर्सनल लोन और इसकी ब्याज दरों को प्रभावित करने वाले कुछ प्रमुख कारक निम्नलिखित हैं –

#1 – क्रेडिट स्कोर (Credit Score)

 क्रेडिट स्कोर से पता चलता है कि पर्सनल लोन देने में कितना जोखिम है. अगर आपका क्रेडिट स्कोर कम है तो आपको पर्सनल लोन मिलने की संभावना कम हो जाती है या फिर आपको अधिक ब्याज दरों पर पर्सनल लोन मिलेगा. जिन लोगों का क्रेडिट स्कोर 750 या इससे अधिक होता है उन्हें कम ब्याज दरों पर आसानी से पर्सनल लोन मिल जाता है.

#2 – मासिक आय (Monthly Income)

पर्सनल लोन देने से पहले बैंक और सभी वित्तीय संस्थान आवेदक की मासिक आय भी देखते हैं क्योंकि उनका यह मानना रहता है कि जिस व्यक्ति की मासिक आय अधिक है वह समय पर लोन की EMI का भुगतान कर सकता है. जिन लोगों की मासिक आय 20 हजार या इससे अधिक होती है उन्हें उचित ब्याज दरों पर पर्सनल लोन मिल जाता है.

वैसे 10 हजार की मासिक आय वाले व्यक्ति को भी पर्सनल लोन मिल जाता है लेकिन उसे अधिक ब्याज दरों पर मिलता है तथा लोन की राशि भी कम होती है.

#3 – आप कहाँ काम करते हैं (Work Place)

पर्सनल लोन जल्दी प्राप्त करने में आपका Work Place भी एक महत्वपूर्ण कारक है. जो लोग प्रतिष्ठित संस्थानों में काम करते हैं उन्हें अपेक्षाकृत बेहतर ब्याज दरों में जल्दी पर्सनल लोन मिल जाता है. अगर आप किसी ऐसे कंपनी में कार्य कर रहे हैं जो अधिक भरोसेमंद नहीं है तो आपको पर्सनल लोन मिलने में कठिनाइयों का सामना करना पड़ सकता है.

#4 – बैंक का आपसे संबंध (Relation)

अगर आप बैंकों से पर्सनल लोन के लिए आवेदन करते हैं तो बैंक आपके पुराने संबंधों को भी देखते हैं जैसे आपने पहले कभी बैंक से लोन लिया और आपने उसका समय पर भुगतान किया है तो बैंक आपको अन्य के मुकाबले बेहतर ब्याज दरों पर अच्छा पर्सनल लोन प्रदान करवा देते हैं.

इनके अलावा भी कुछ और फैक्टर हो सकते हैं जिनके आधार पर बैंक या वित्तीय संस्थान पर्सनल लोन प्रदान करवाते हैं लेकिन ऊपर बताये गए चारों पॉइंट सबसे महत्वपूर्ण फैक्टर के अंतर्गत आते हैं. 

पर्सनल लोन का इस्तेमाल कहाँ कर सकते हैं

जैसा कि हमने ऊपर आपको बताया है होम लोन और कार लोन की तरह पर्सनल लोन को इस्तेमाल करने की कोई restrictions नहीं होती है आप कहीं भी पर्सनल लोन का इस्तेमाल कर सकते हैं. जैसे कि – पर्सनल लोन को निम्न प्रकार से इस्तेमाल कर सकते है.

  • अपने पर्सनल खर्चे के लिए.
  • किसी चीज की खरीददारी के लिए.
  • घर के छोटे – मोटे कार्य करने के लिए.
  • अपने बिज़नस को सुचारू रूप से चालु रखने के लिए.
  • शादी, विवाह या किसी पार्टी में.
  • मेडिकल इमरजेंसी में.
  • अपने परिवार या दोस्तों के साथ कहीं घूमने जाने के लिए.
  • अपने बच्चों की अच्छी शिक्षा के लिए.

कुल मिलकर कहें तो आप अपने किसी भी प्रकार के निजी कार्यो में पर्सनल लोन का इस्तेमाल कर सकते हैं.

पर्सनल लोन के प्रकार (Tyeps Of Personal Loan In Hindi)

  • वैवाहिक लोन
  • एजुकेशन लोन
  • मेडिकल एमरजेंसी लोन
  • एनआरआई लोन
  • हॉलिडे लोन
  • फ्रेशर फंडिंग

पर्सनल लोन के लिए योग्यता (Eligibility Criteria for Personal Loan)

पर्सनल लोन लेने के लिए आपको निम्नलिखित शर्तों को पूरा करना होता है.

  • आवेदक की नागरिकता भारतीय होनी चाहिए. (भारत के बैंकों तथा वित्तीय संस्थानों से लोन लेने के लिए)
  • आवेदक की उम्र 18 वर्ष से लेकर 60 वर्ष के बीच होनी चाहिए.
  • आवेदक का क्रेडिट स्कोर 750 या इससे अधिक होना चाहिए.
  • अगर आवेदक नौकरीपेशा है तो उसकी न्यूनतम सैलरी 15 हजार होनी चाहिए.
  • स्वरोजगार वाले पिछले 2 सालों से एक ही रोजगार में हो, और उनकी भी मासिक आय कम से कम 15 हजार होनी चाहिए.

वैसे विभिन्न बैंकों तथा वित्तीय संस्थाओं के पर्सनल लोन देने की शर्ते भी भिन्न – भिन्न हो सकती हैं लेकिन अधिकतर Case में उपरोक्त शर्तों को पूरा करने वाले आवेदक को जल्दी पर्सनल लोन मिल जाता है.

पर्सनल लोन के लिए आवश्यक दस्तावेज

पर्सनल लोन लेने के लिए आपको निम्नलिखित दस्तावेजों की आवश्यकता होती है.

  • पैन कार्ड
  • आधार कार्ड
  • वर्तमान निवास प्रमाण (बिजली, पानी, गैस आदि का बिल)
  • आय प्रमाण पत्र (नौकरीपेशा लोगों के लिए सैलरी स्लिप, पिछले 6 महीने की बैंक स्टेटमेंट और स्वरोजगार वालों के लिए बैंक अकाउंट स्टेटमेंट, पिछले साल का इनकम टैक्स रिटर्न)
  • पासपोर्ट साइज़ की फोटो

इनके अतिरिक्त बैंक अन्य दस्तावेज भी मांग सकते हैं.

पर्सनल लोन कैसे लें (Personal Loan Kaise Milega)

अगर आपको अर्जेंट पर्सनल लोन की आवश्यकता है तो आप अपने बैंक में जाकर पर्सनल लोन ले लिए आवेदन कर सकते हैं या फिर घर बैठे बैंक और वित्तीय संस्थानों की मोबाइल एप्लीकेशन से पर्सनल लोन के लिए आवेदन कर सकते हैं. यहाँ हम आपको पर्सनल लोन लेने के दोनों तरीकों के बारे में बतायेंगे.

बैंक जाकर पर्सनल लोन कैसे लें

अगर आप अपने Current Bank यानि जिस बैंक में वर्तमान समय में आपका अकाउंट है वहाँ से लोन के लिए Apply करते हैं बैंक पुराने संबंधों को देखते हुए जल्दी लोन प्रदान करवा सकते हैं. बैंक में जाकर आप निम्नलिखित प्रकार से लोन के लिए आवेदन कर सकते हैं.

  • सबसे पहले आपको आवश्यक दस्तावेजों के साथ फिजिकली अपने बैंक की नजदीकी शाखा में जाना पड़ेगा.
  • इसके बाद बैंक के ब्रांच मैनेजर से पर्सनल लोन के लिए बात करें और पर्सनल लोन आवेदन फॉर्म प्राप्त करें.
  • आवेदन फॉर्म में सभी जानकारी को सही – सही भरें और दस्तावेजों को Attach करके फॉर्म को सबमिट कर लीजिये.
  • इसके बाद बैंक आपके आवेदन फॉर्म में दी गयी जानकारी और दस्तावेजों के आधार पर निर्णय लेंगे कि आपको पर्सनल लोन मिलेगा या नहीं.
  • अगर आप पर्सनल लोन लेने के लिए योग्य पाए जाते हैं तो लोन की राशि 24 से 48 घंटों के अन्दर आपके बैंक खाते में ट्रान्सफर कर दी जायेगी.

ऑनलाइन पर्सनल लोन के लिए आवेदन कैसे करें

आजकल जमाना ऑनलाइन का है इसलिए बहुत सारे वित्तीय संस्थान और बैंक अपनी मोबाइल एप्लीकेशन के जरिये ऑनलाइन पर्सनल लोन की सुविधा प्रदान करवाते हैं. ऑनलाइन पर्सनल लोन लेने की प्रोसेस निम्नलिखित है.

  • सबसे पहले आप बैंक या वित्तीय संस्थाओं की मोबाइल एप्लीकेशन को डाउनलोड करके अपने मोबाइल में इनस्टॉल कर लीजिये.
  • इसके बाद एप्लीकेशन में मोबाइल नंबर से अपना अकाउंट बनाइये.
  • अकाउंट बनाने के बाद आप एप्लीकेशन के Homepage पर पहुँच जायेंगे, यहाँ पर आपको Apply Now का बटन मिलेगा.
  • आप Apply Now के बटन पर क्लिक करके पर्सनल लोन सेलेक्ट करके Continue पर क्लिक कर लीजिये.
  • इसके बाद आपको अपने जरुरी दस्तावेजों को सबमिट करके KYC की प्रक्रिया को कम्पलीट कर लेना है.
  • अब कुछ बेसिक इनफार्मेशन को fill करके लोन आवेदन फॉर्म को सबमिट कर लीजिये.
  • यह प्रोसेस कम्पलीट करने के बाद कुछ मिनटों का इन्तजार करें.
  • अगर आप पर्सनल लोन के लिए योग्य पाये जाते हैं तो लोन की राशि कुछ ही मिनटों में आपके बैंक अकाउंट में ट्रान्सफर कर दी जाती है. लेकिन यदि आपकी Request Reject हो जाती है तो आप 2 या 3 महीनों के बाद दुबारा पर्सनल लोन के लिए आवेदन कर सकते हैं.

पर्सनल लोन लेने से पहले ध्यान देने योग्य बातें

अगर आप पर्सनल लोन लेने का मन बना चुके हैं तो जब आप लोन के लिए आवेदन करेंगे तो निम्नलिखित बातों का जरुर ध्यान रखें.

  • पर्सनल लोन के लिए आवेदन करने से पहले यह निर्धारित कर लें कि आपको कितना लोन चाहिए.
  • यह पता करें कि बैंक या वित्तीय संस्थाएं आपको किस ब्याज दरों पर पर्सनल लोन प्रदान करवा रही हैं.
  • जहाँ से आप पर्सनल लोन ले रहे हैं उनके Repayment शर्तों को सही से समझें.
  • लोन पर लगने वाले सभी फीस और चार्ज के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करने के बाद ही लोन के लिए आवेदन करें.

पर्सनल लोन के फायदे (Advantage of Personal Loan in Hindi)

पर्सनल लोन के कुछ प्रमुख फायदे निम्नलिखित हैं –

  • आप अपनी कोई सम्पति गिरवी रखे बिना पर्सनल लोन ले सकते हैं.
  • अगर आप बैंक की सभी शर्तों पर खरे उतरते हैं तो आपको बेहतर ब्याज दरों पर अधिक अमाउंट का पर्सनल लोन मिल जाता है.
  • पर्सनल लोन का उपयोग आप किसी भी प्रकार के कार्यों में कर सकते हैं.
  • पर्सनल लोन में अधिक कागजी कारवाही की जरुरत नहीं होती है.
  • वित्तीय जरूरतों को पूरा करने में पर्सनल लोन सबसे मददगार होते हैं.

पर्सनल लोन का नुकसान (Disadvantage of Personal Loan in Hindi)

पर्सनल लोन के फायदों के साथ – साथ कुछ नुकसान भी होते हैं जैसे कि –

  • अधिकतर बैंक और वित्तीय संस्था पर्सनल लोन अधिक ब्याज दरों पर प्रदान करवाते हैं.
  • पर्सनल लोन लम्बे समय के लिए नहीं दिए जाते हैं.
  • हर व्यक्ति को बड़ी आसानी से पर्सनल लोन नहीं मिलता है.
  • पर्सनल लोन देने में ऋणदाता को अधिक जोखिम रहता है, क्योंकि उसके पास उधारकर्ता की कोई भी सम्पति गिरवी नहीं होती है जिससे वह लोन की भरपाई कर सके.

FAQ: Personal Loan In Hindi

पर्सनल लोन कितना मिलता है?

अलग – अलग बैंकों और वित्तीय संस्थाओं में मिलने वाले पर्सनल लोन की राशि भी भिन्न हो सकती है. पर्सनल लोन 10 हजार से लेकर 40 लाख तक का मिल सकता है.

पर्सनल लोन में ब्याज दरें कितनी होती है?

पर्सनल लोन की ब्याज दरें विभिन्न फैक्टर पर निर्भर करती हैं जैसे वित्तीय संस्थाओं, उधारकर्ता के पुराने संबंध, रिस्क प्रोफाइल आदि. इन सब को देखते हुए पर्सनल लोन में ब्याज दरें 10% से लेकर 36% प्रतिवर्ष तक हो सकती हैं.

पर्सनल लोन कहाँ से मिलेगा?

आप बैंकों या वित्तीय संस्थाओं की मोबाइल एप्लीकेशन से पर्सनल लोन के लिए आवेदन कर सकते हैं.

इन्हें भी पढ़े

निष्कर्ष: पर्सनल लोन की जानकारी हिंदी में

आज के इस लेख के माध्यम से हमने जाना कि Personal Loan Kya Hai और पर्सनल लोन कैसे लेते हैं, इसके साथ ही पर्सनल लोन से जुडी हर एक जानकारी आपके साथ शेयर की जिससे कि आप पर्सनल लोन के बारे में अच्छे से समझ गए होंगे.

वैसे आपको पर्सनल लोन लेने के विषय में तभी विचार करना चाहिए जब यह  अति आवश्यक होता है, वर्ना आपको हमेशा लोन लेने  से बचना चाहिए क्योंकि लोन मिलने में तो बड़ी ख़ुशी होती है लेकिन Repayment करने में बहुत सारी समस्याएं होती हैं.

आशा करते हैं आपको यह लेख पसंद आया होगा इस लेख को आप अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें और उन्हें भी पर्सनल लोन के बारे में बतायें.

5/5 - (1 vote)

नमस्कार ! मेरा नाम रणजीत सिंह है और इस Best Hindi Blog का संस्थापक हूँ. मुझे ब्लॉग्गिंग, एसईओ और डिजिटल मार्केटिंग जैसे विषयों पर गहरी नॉलेज है! हमारे ब्लॉग पर आने के लिए धन्यवाद.

Leave a Comment